25.8 C
Panipat
November 28, 2021
Voice Of Panipat
Big Breaking News Haryana Haryana News

सुनारिया जेल में पंजाब पुलिस ने 7 घंटे तक की राम रहीम से पूछताछ, पूछे कई सवाल

वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)- सुनारिया जेल में बरगाड़ी बेअदबी मामले में पंजाब पुलिस की एसआईटी सुबह 9:35 बजे डेरा प्रमुख राम रहीम से पूछताछ करने पहुंची थी। पंजाब पुलिस की एसआईटी शाम को 7:10 बजे वापस रवाना हुई। कागजी कार्रवाई पूरी करने में ही टीम को दो घंटे लग गए। पूछताछ के लिए 40 सवाल लिखकर लाई थी पुलिस टीम।

बरगाड़ी बेअदबी मामले में पंजाब पुलिस की विशेष जांच दल (एसआईटी) ने सुनारिया जेल में आरोपी राम रहीम से साढ़े सात घंटे तक पूछताछ की। इस दौरान राम रहीम कई सवालों के जवाब गोलमोल देता नजर आया। बैरक के बाहर स्पेशल रूम में शाम 5:30 बजे तक सवाल-जवाब का सिलसिला चला। शाम को 7:10 बजे एसआईटी पंजाब के लिए रवाना हो गई। 2015 के बरगाड़ी के बेअदबी मामले में हाईकोर्ट की अनुमति मिलने के बाद सोमवार की सुबह करीब 9:35 बजे पंजाब पुलिस की एसआईटी की 10 गाड़ियों का काफिला रोहतक पहुंचा था। टीम का नेतृत्व आईजी सुरेंद्रपाल परमार ने किया। 

साथ में एसएसपी मुखविंदर सिंह भुल्लर, डीएसपी लखबीर सिंह व एक पुलिस इंस्पेक्टर भी थे। टीम ने 10 बजे जेल के अंदर प्रवेश किया, जहां जेल अधीक्षक सुनील सांगवान ने टीम को एक विशेष कमरे में रुकवाया। वहीं पर सुरक्षा के बीच बैरक के अंदर से लाया गया। बताया जा रहा है कि पंजाब पुलिस की एसआईटी पहले से 40 सवाल लिखकर लाई थी। मामले में करीब शाम 5:30 बजे पूछताछ का सिलसिला बंद हुआ।

जेल प्रशासन ने राम रहीम को उसकी बैरक में भेज दिया। राम रहीम के जवाब से एसआईटी संतुष्ट हुई या नहीं, इसका खुलासा किए बगैर जांच टीम जेल परिसर से शाम को 7 बजे के बाद रवाना हो गई। पूछताछ के दौरान एडीजीपी रोहतक संदीप खिरवार व एसपी उदय मीणा भी जेल परिसर में पहुंचे। सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेकर 2 बजे लौट गए। बरगाड़ी बेअदबी मामले में राम रहीम से पूछताछ करने सोमवार सुबह पंजाब पुलिस का काफिला जब सुनारिया जेल पहुंचा, तभी साथ में प्रेस लिखीं तीन गाड़ियां भी जेल के गेट तक पहुंच गईं। गेट के सामने ही एसआईटी प्रमुख आईजी सुरेंद्र परमार से जब मीडिया कर्मियों ने सवाल-जवाब किए, तो सुरक्षाकर्मियों को इसकी भनक लग सकी। इसके बाद पंजाब से आई मीडिया टीम को जेल के गेट से एक किलोमीटर के दायरे से बाहर किया गया। 

डेरा प्रमुख राम रहीम को 2017 में साध्वी यौन प्रकरण में 20 साल की सजा हुई थी। इसके बाद पत्रकार छत्रपति हत्याकांड और पिछले दिनों रंजीत हत्याकांड में आजीवन कारावास की सजा हुई। सीबीआई कोर्ट में भी राम रहीम की पेशी वीडियो कांफेंसिंग के माध्यम से हुई है। उसे जेल से बाहर बीमार होने के बाद ही पीजीआई, गुरुग्राम व एम्स ले जाया गया था। अब हाईकोर्ट की अनुमति से पंजाब पुलिस ने 2015 के बरगाड़ी बेअदबी मामले में राम रहीम को सामने बैठाकर पूछताछ की है। जेल के सूत्रों का कहना है कि पंजाब पुलिस की एसआईटी ने विशेष रूम में राम रहीम से पूछताछ सुबह 10 बजे शुरू की। चार सदस्यीय टीम ने लगातार सवाल-जवाब किए। पूछताछ का सिलसिला साढ़े 5 बजे तक चला। बीच में राम रहीम को आधा घंटे का ब्रेक भी दिया गया। पूछताछ के बाद भी राम रहीम सामान्य नजर आया।

जून 2015 में पंजाब के बरगाड़ी से करीब पांच किमी दूर गांव बुर्ज जवाहर सिंह वाला स्थित गुरुद्वारा साहिब से श्री गुरुग्रंथ साहिब के पवित्र स्वरूप चोरी हो गए थे। 25 सितंबर 2015 को बरगाड़ी के गुरुद्वारा साहिब के पास हाथ से लिखे दो पोस्टर लगे मिले थे। ये पंजाबी भाषा में लिखे गए थे।  मामले में पंजाब पुलिस ने कुछ लोगों को गिरफ्तार किया था। अब पुलिस राम रहीम से पूछताछ करना चाहती थी। 25 अक्तूबर को फरीदकोट की अदालत ने राम रहीम के 29 अक्तूबर के लिए प्रोडक्शन वारंट जारी किए थे, लेकिन हाईकोर्ट ने वारंट पर एक दिन पहले रोक लगा दी थी। साथ ही पंजाब पुलिस को सुनारिया जेल में राम रहीम से पूछताछ की अनुमति दे दी थी।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

PANIPAT: ई-रिक्‍शा में बैठी मां की गोद से छूटकर सड़क पर गिरा ढाई साल का मासूम, हुई मौत

Voice of Panipat

ड्रग केस में फंसे आर्यन 27 दिन बाद जेल से हुए रिहा

Voice of Panipat

बाबा रामदेव और IMA के बीच विवाद को लेकर स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कही बड़ी बात

Voice of Panipat