32.4 C
Panipat
September 19, 2021
Voice Of Panipat
Big Breaking News Crime Haryana Crime Panipat Crime

युवक और युवती ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान

वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह):- इसराना एरिया के गांव भादड़ के रहने वाले प्रेमी जाेड़े ने बुधवार देर रात काे पानीपत-राेहतक लाइन पर नौल्था के पास गरीब रथ एक्सप्रेस ट्रेन के आगे छलांग लगाकर जान दे दी। 17 साल की किशोरी 12वीं में पढ़ती थी और लड़का 12वीं पास था। बुधवार की रात करीब 11 बजे लड़का बाइक लेकर घर से बाहर निकला तो परिजनों को पता चल गया। इसके बाद लड़के वालों ने लड़की के परिजनों से पूछा कि उनकी लड़की घर में है कि नहीं। परिजनों ने कहा कि लड़की तो सो रही है, लेकिन घर में जब लड़की नहीं मिली तो दोनों परिवार परेशान हो गए। फिर, लड़का-लड़की की तलाशी शुरू हो गई। रात भर तलाशने के बाद जब जीआरपी नौल्था रेलवे स्टेशन पहुंचे तो पुलिस ने कहा कि एक लड़का-लड़की ट्रेन से कटे हैं, उनकी पहचान कर लें। इस पर परिजनों ने पहचान की।

घर से 2 किलोमीटर दूर ही दोनों ने ट्रेन के आगे कूदकर जान दी। रात करीब 12 बजे गरीब रथ ट्रेन के ड्राइवर ने जीआरपी काे काॅल कर घटना की जानकारी दी कि नाैल्था रेलवे स्टेशन के पास एक लड़के और लड़की ने ट्रेन के आगे छलांग लगा दी है। सूचना मिलते ही जीआरपी पानीपत माैके पर पहुंच गई। पुलिस काे रेलवे लाइन के किनारे दाेनाें के शव पड़े मिले। दाेनाें शवाें के बीच करीब 10 फीट की दूरी थी। रेलवे लाइन के किनारे ही एक बाइक खड़ी मिली। उनके पास से ऐसा कुछ नहीं मिला था, जिससे उन दोनों की पहचान की जा सके। इसके बाद जीआरपी ने दोनों के शव डैड हाउस में रखवा दिए। सीआरपीसी की धारा 174 के तहत कार्रवाई की गई है।

सुबह करीब 5 बजे लड़के के परिजन तलाश करते हुए नाैल्था रेलवे स्टेशन पहुंच गए। वहां से उन्हें लड़का और लड़की के ट्रेन से कटने की सूचना मिली। यहां से परिजन जीआरपी पानीपत थाने में आ गए। पाेस्टमार्टम हाउस पहुंच परिजनाें को दाेनाें की शिनाख्त करा दी। रात काे जब लड़का निकला ताे परिजन पहले लड़की के घर पहुंचे। उस वक्त परिजन साे रहे थे। लड़के के परिजनाें ने ही लड़की के परिजनाें काे इस संबंध मंे बताया। उन्हाेंने देखा ताे लड़की भी घर पर नहीं थी। तभी दाेनाें के परिजन तलाश में लग गए थे।

प्रेम संबंध के कारण उठाया कदम: एसआई

जांच अधिकारी एसआई ईश्वर सिंह ने बताया कि लड़के की उम्र 21 साल व लड़की की उम्र 17 साल थी। दाेनाें के बीच प्रेम संबंध थे। जातिबंधन आड़े आने के कारण दाेनाें ने यह कदम उठाया। दाेनाें के ही परिजनाें ने कार्रवाई से इनकार कर दिया है। पाेस्टमार्टम के बाद शव परिजनाें काे साैंप दिए हैं।

Team voice of panipat

Related posts

नौकरी लगवाने के नाम पर ठगे 38 लाख, पढिये पूरा मामला.

Voice of Panipat

जिला परिषद पानीपत की सीटों/वार्डो का ड्रा निकाला गया

Voice of Panipat

नीरज चोपड़ा वतन लौटे, 15 अगस्त के बाद Panipat आने की चर्चा

Voice of Panipat