28.3 C
Panipat
July 18, 2024
Voice Of Panipat
Big Breaking NewsCrimeHaryanaHaryana CrimeHaryana NewsPanipatPanipat Crime

क्रेडिट कार्ड अप्रूव करने के नाम पर युवक से की ठगी, पढिए

वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह)- आजकल ठग हर रोज किसी न किसी बैंक उपभोक्ता को ठगी शिकार बना रहे हैं। बैंक कर्मी बता किसी के क्रेडिट कार्ड के बंद होने तो किसी के अप्रूवल संबंधित बातें कर उनसे जानकारी ले चूना लगा रहे हैं। पुलिस की तरफ से ऐसी काल से बचने को लेकर एडवाइजरी भी जारी की जा चुकी है, लेकिन उपभोक्ता अनदेखी कर ठगों पर विश्वास कर बैठते हैं और खामियाजा नुकसान के तौर पर भुगतना पड़ता है। ऐसे ही ठगों का शिकार बने शहर के तहसील कैंप न्यू रमेश नगर के रहने वाले सरफराज। ठग ने बैंक का क्रेडिट कार्ड अप्रूव होने के नाम पर जानकारी जुटा उनके खाते से करीब 74 हजार रुपये निकाल लिए।

सीसीटीवी कैमरे लगाने का काम करने वाले सरफराज ने एसपी कार्यालय में दी शिकायत में बताया कि उसके पास 25 अगस्त को दोपहर दो बजे एक काल आई। रिसीव करने पर बोलने वाले ने खुद को एक्सिस बैंक के क्रेडिट कार्ड डिपार्टमेंट से बताते हुए कहा कि आपका बैंक का जो क्रेडिट कार्ड है, वो अप्रूव हो गया है। इसके लिए आपको 49 रुपये अदा करने होंगे। तब आपका कार्ड बन जाएगा। उसने विश्वास कर हां कर दी। फिर बैंक कर्मी बताने वाले उसके पास एक वर्चुअल कार्ड भेजने के साथ मेल पर लिक भेजा। इसके उसने अपने एचडीएफसी बैंक के क्रेडिट कार्ड नंबर से उपरोक्त व्यक्ति द्वारा भेजे गए लिक पर 49 रुपये की आनलाइन पेमेंट कर दी। 2 बजकर 5 मिनट पर उसके पास ओटीपी आया और 2 बजकर 13 मिनट पर मोबाइल पर उक्त क्रेडिट कार्ड से ही 73 हजार 963 रुपये कटने का मैसेज आ गया। उसे देख वो हैरान रह गया और उसने तुरंत उक्त नंबर पर काल की, लेकिन उसे कोई जवाब नहीं मिला और बाद में संपर्क तक होना बंद हो गया। सरफराज का कहना है कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने खुद को बैंक कर्मी बता उसके साथ धोखाधड़ी की है। आरोपित का पता लगा कार्रवाई कर ठगे पैसे वापस दिलाए जाएं। वहीं सिटी थाना पुलिस ने साइबर सेल से मामले की जांच के बाद अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। वहीं जब कार्ड ब्लाक कराया तो बाकी के पैसे बचे।

सरफराज के मुताबिक उसके क्रेडिट कार्ड की लिमिट डेढ़ लाख से ऊपर है। उसके पास जैसे ही पैसे कटने का मैसेज आया तो उसने तुरंत ठग द्वारा की गई काल को काटा और बैंक के कस्टर केयर नंबर पर काल कर क्रेडिट कार्ड को ब्लाक करा दिया। तब जाकर उसके बाकी पैसे बच पाए। सरफराज के मुताबिक पुलिस ने बताया कि जिस नंबर से उसके पास काल आई थी, वो मध्यप्रदेश का था।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

किसानों के हित में कृषि बिल, विपक्ष गुमराह कर केवल चमका रहा राजनीति – सीएम

Voice of Panipat

मानसिक तनाव के चलते पिता ने 10 साल के बेटे को मारी गोली, और फिर खुद की आत्महत्या, पढिए पूरा मामला

Voice of Panipat

हरियाणा के मुख्यमंत्री पढ़ाएंगे ब्यूरोक्रेट्स को  कर्मयोग का पाठ

Voice of Panipat