38.7 C
Panipat
June 14, 2024
Voice Of Panipat
Big Breaking NewsCrimeHaryana NewsLatest NewsPanipat Crime

PANIPAT: सब्जी मंडी में रेहड़ी वालो से रंगदारी वसूली करने वाले गिरोह के चार सदस्य काबू

वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह):- सब्जी मंडी में रेहड़ी वालो से रंगदारी वसूली करने वाले गिरोह के चार सदस्य काबू,वसूली ना देने पर आरोपी रेहड़ी वालो से मारपीट करते थे। सीआईए-वन प्रभारी इंस्पेक्टर राजपाल सिंह ने प्रकरण की जानकारी देते हुए बताया की पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन के कुशल मार्गदर्शन में कार्रवाही करते हुए सीआईए-वन पुलिस की टीम ने नई सब्जी मंडी में रेहड़ी वालो से रंगदारी वसूली करने वाले गिरोह के चार सदस्यों को मंगलवार साय सैक्टर 13/17 में हेलिपेड के पास से काबू करने में कामयाबी हासिल की । पकड़े गए आरोपियों की पहचान राकेश उर्फ रोकी पुत्र महाबीर निवासी बराह खुर्द जीन्द हाल आजाद नगर पानीपत, अमन पुत्र रणधीर निवासी रामरा जीन्द हाल मुखिजा कॉलोनी पानीपत, अमित पुत्र राजू निवासी विकाश नगर व अक्षय पुत्र बलबीर निवासी विकाश नगर पानीपत के रूप में हुई। उन्होने बताया सीआईए-वन पुलिस टीम को मंगलवार साय गश्त के दौरान गुप्त सूचना मिली थी की संद्विगध किस्म के चार युवक सैक्टर 13/17 में हेलिपेड के पास किसी अपराधिक वारदात को अंजाम देने की फिराक में घूम रहे है। पुलिस टीम ने तुरंत मौके पर दंबिस दे चारो युवकों को काबू कर गहनता से पुछताछ की तो आरोपियो ने रमेश मलिक निवासी रिसालू, गोपी सरदार निवासी सैक्टर 11/12 व राहुल निवासी सिवाह के कहने पर तीनों के नाम से नई सब्जी मंडी में रेहड़ी वालो से रंगदारी वसूली करने व नवम्बर 2021 में सब्जी मंडी में आढ़त की दुकान के संचालक बलकार निवासी रिसालू को रंगदारी ना देने पर लाठी डंडो से पीटने की वारदात को अजाम देने बारे स्वीकारा।

उक्त वारदात बारे थाना चांदनी बाग में बलकार निवासी रिसालू की शिकायत पर मुकदमा दर्ज है। बलकार ने थाना चांदनी बाग पुलिस को दी शिकायत में बताया था की उसकी पानीपत नई सब्जी मंडी में आढ़त की दुकान है। वह हर रोज की तरह घर से सुबह करीब साढ़े 4 बजे कार से मंडी में पहुंचा।  कार से उतर कर दुकान की और जाने लगा तो उसी समय तीन/चार अज्ञात युवकों ने लाठी डंडो से उसके उपर हमला कर दिया। बचाव के लिये उसने शोर मचाया तो आस पास के लोगो को आता देखकर आरोपी हथियार दिखाते हुए जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से भाग गए। इंस्पेक्टर राजपाल सिंह ने बताया वारदात के संबध में पहले से दर्ज मुकदमें में आईपीसी की धारा 386 व 387 मर्ज कर गिरफ्तार चारो आरोपियो के कब्जे से वारदात में प्रयोग किये लाठी डंडे बरामद कर चारो आरोपियों को आज माननीय न्यायालय में पेश किया। वहा से आरोपियो को न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया। वारदात में संलिप्त फरार चल रहे मुख्य आरोपियों सहित अन्य आरोपियों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इंस्पेक्टर राजपाल सिंह ने बताया पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने पहले ही अपराधियों को कड़े व साफ शब्दो में चेतावनी दी हुई है की रंगदारी सहित अन्य अपराधिक वारदातों व अपराधियों को किसी भी रूप में पनपने नही दिया जाएगा। रंगदारी की वारदातों में पहले की जिला पुलिस द्वारा आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाही अमल मे लाई जा चुकी है। आमजन से अपील है की किसी के साथ इस प्रकार से जबरन वसूली की वारदातों का अंजाम दिया जा रहा है तो वह निशंकोच होकर पुलिस को शिकायत दे। आरोपियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाही अमल में लाई जाएगी। 

Related posts

Online कंपनी से पानीपत के उद्योगपति ने रखी मेड..फिर हुआ बड़ा खुलासा

Voice of Panipat

जींद में 142 स्कूल छात्राओं के यौन शोषण का मामला

Voice of Panipat

हवाई यात्रा में मास्क ना पहनने वालों पर होगा कड़ा एक्शन, DGCA ने जारी किए नए नियम

Voice of Panipat