11.8 C
Panipat
January 21, 2022
Voice Of Panipat
Big Breaking News Cities India News Latest News

स्टेशन से ट्रेन टिकट खरीदने पर मिलेगा डिस्काउंट, ऐसे उठाए फायदा

पिछले एक साल से कोरोना महामारी के कारण पहले तो कई महीनों तक ट्रेनों को रद्द कर दी गई…अब जबकि कोरोना की रफ्तार धीमी पड़ने लगी है. भारतीय रेल ट्रेनों के संचालन को फिर से शुरू करने लगा है. इस तरह ट्रेन से यात्रा करने वालों के लिए भारतीय रेल ने एक खुशखबरी दी है…भारतीय रेलवे Unified Payments Interface (UPI) और Bharat Interface for Money (BHIM) के जरिये स्टेशन पर ट्रेन टिकट की पेमेंट करने वालों को डिस्काउंट देने की घोषणा की है. UPI के माध्यम से टिकट का पेमेंट करने पर बेसिक किराए के कुल मूल्य पर 5% की छूट मिलेगी.

भारतीय रेलवे ने इस ऑफर की घोषणा करते हुए बताया  है कि उसने रेलवे काउंटरों पर यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) / भारत इंटरफेस फॉर मनी (भीम) के माध्यम से ट्रेन टिकट बुक करने पर मिलने वाले डिस्काउंट को अगले साल 12 जून 2022 तक बढ़ा दिया है. भारतीय रेलवे ने 1 दिसंबर 2017 से टिकटों के लिए भुगतान स्वीकार करने का यह तरीका शुरू किया था. हालांकि, रेल यात्री इस छूट का लाभ सिर्फ काउंटरों पर टिकट बुक करके प्राप्त कर सकते हैं, न कि ऑनलाइन टिकट बुक करके.  रेलवे ने PRS आरक्षित काउंटर टिकट में बेसिक किराए के कुल मूल्य पर 5% की छूट देने का निर्णय किया है, जो कि अधिकतम 50 रुपये तक होगी. काउंटर के माध्यम से टिकट बुक करते समय UPI/BHIM को भुगतान विकल्प के रूप में भी स्वीकार किया जाता है. एक टिकट पर अधिकतम 50 रुपये तक की छूट मिलेगी और टिकट की कीमत 100 रुपये से अधिक होनी चाहिए.  

काउंटर पर टिकट खरीदते हुए ऐसे उठाए छूट का फायदा 

डिस्काउंट का फायदा उठाने के लिए ऐसे बुक करें टिकट 

रलवे स्टेशन के PRS काउंटर पर जाएं. टिकट के लिए स्टाफ से बात करें.

टिकट तय हो जाने के बाद UPI/BHIM के माध्यम से पैमेंट करें. 

पेमेंट की पुष्टि करने के लिए यात्री को उसके मोबाइल पर पेमेंट से जुड़ा एक मेसेज मिलगा.

यात्री को पेमेंट के मैसेज को कंफर्म करना होगा. जिसके बाद किराया राशि UPI से जुड़े खाते से कट जाएगी.

पेमेंट होने के बाद PRS काउंटर पर बैठा व्यक्ति टिकट प्रिंट करेगा और यात्री को टिकट मिल जाएगा

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

जानिए किस महान खिलाड़ी की याद में मनाया जाता है राष्टीय खेल दिवस 

Voice of Panipat

सरसों के तेल के डिब्बों में भरकर चरखी दादरी से अलवर ले जा रहे थे 65 लाख की नकदी

Voice of Panipat

काजल दहिया के पिता की हुई थी हत्या, चार साल बाद खुला राज

Voice of Panipat