34.3 C
Panipat
September 28, 2021
Voice Of Panipat
Panipat

पाईट कॉलेज में वेबिनार सीरीज का आयोजन, साइबर सिक्योरिटी विषय पर दी जानकारी

वायस आफॅ पानीपत (कुलवन्त सिंह)- 2020 बैच के विद्यार्थियों के लिए साइबर सिक्योरिटी विषय पर वेबिनार पाईट कॉलेज में 2020 बैच के जिन विद्यार्थियों ने कॉलेज में एडमिशन ले लिया है उनके लिए लगातार अलग अलग विषय पर लीड वेबिनार सीरीज का आयोजन किया जा रहा है, ताकि रेगुलर क्लास शुरू होने से पहले उन्हें नई नई टेक्नोलॉजी की जानकारी मिल सके | इसी सीरीज में आज साइबर सिक्योरिटी विषय पर ज़ूम ऍप और फेसबुक लाइव के जरिए वेबिनार हुआ, जिसमें सिंगापुर से कास्परस्काई के सीनियर बिज़नेस डेवेलोपमेंट लीड विक्रम कालकट ने साइबर सिक्योरिटी के सभी पहलुओं पर विस्तार से प्रकाश डाला | 700 से अधिक विद्यार्थियों और शिक्षकों ने ऑनलाइन माध्यम से इस वेबिनार को जॉइन किया |

विक्रम कालकट वैसे तो भारतीय ही है, दिल्ली से पढ़ाई करने के बाद उन्होंने अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन कैंब्रिज विश्विधालय , यू के से की | टेक्नॉलजी एक्सपर्ट के अलावा विक्रम एक अच्छे लेखक भी है | डिजिटल स्पाइन नाम से उनकी एक किताब काफी चर्चा में रही थी | उन्होंने विद्यार्थियों को बताया कि उन्होंने बेशक मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिग्री हासिल की और इकोनॉमिक्स विषय में रूचि होने की वजह से उन्होंने एम बी ऐ भी किया लेकिन बाद में साइबर सिक्योरिटी में उन्होंने काम करना शुरू कर दिया। उन्होंने विद्यार्थियों को समझाया जो भी काम करो उसे पूरी मेहनत लगा कर पूरा करो। साइबर सिक्योरिटी के बारे में उन्होंने बताया कि किस तरह से आज हर मशीन, हर काम डिजिटल होता जा रहा है, आने वाले समय घर और दफ्तर में सभी डिवाइस डिजिटल हो जाएंगे, उनमे चिप लगी होगी। कई देशो में टू व्हीलर और फोर व्हीलर्स भी ऑटो कनेक्टेड है और जल्द ही सभी देशो में ऐसा हो जाएगा। और जब सभी चीजे स्मार्ट और डिजिटल हो जाएंगी तो साइबर सिक्योरिटी की जरुरत हर जगह होगी और इस क्षेत्र में अपार अवसर पैदा होंगे। साइबर सिक्योरिटी सिर्फ एथिकल हैकिंग तक की सीमित नहीं है इससे आगे भी इस टेक्नॉलजी में बहुत अवसर है। विषय के हर पहलु को जैसे बिज़नेस वैल्यू चैन ,साइबर पोस्चर, ग्लोबल इकनोमिक एनवायरनमेंट , क्लाउड, बिग डेटा, सप्लाई चैन, डार्क वेब मैनेजमेंट आदि को उन्होंने अच्छे से समझाया। विद्यार्थियों ने भी विषय पर अपने सभी सवाल एक्सपर्ट के सामने रखे जिनका एक्सपर्ट ने उदहारण के साथ उत्तर दिया। इसके अलावा उन्होंने आई ओ टी और मशीन लर्निंग के बारे में भी विद्यार्थियों को बताया कि किस तरह ये दोनों टेक्नोलॉजी साइबर सिक्योरिटी के साथ जुडी हुई है।कॉलेज के वाईस चेयरमैन राकेश तायल ने विक्रम कालकट का आभार प्रकट किया कि यह हमारे लिए और नए विद्यार्थियों के लिए सौभाग्य की बात है कि उन्होंने  समय निकाल कर इस टेक्नोलॉजी के बारे में अच्छे से समझाया। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि आने वाले समय में भी कॉलेज के शिक्षकों के अलावा इसी तरह से अलग अलग इंडस्ट्री के एक्सपर्ट आपको नई नई टेक्नोलॉजी के बारे में बताते रहेंगे ताकि पढ़ाई शुरू होने से पहले आप ये तय कर सके कि आपको किस टेक्नोलॉजी में अपना करियर बनाना है। अब वो समय नहीं है कि इंजीनियरिंग करने के बाद कॉलेज से एक अच्छी प्लेसमेंट तक सीमित रहे अब समय है खुद का अपना स्टार्ट अप खड़ा कर दुसरो को रोजगार देने की सोच रखने का और ऐसा तभी हो सकता है जब आप पहले दिन से ही मेहनत करे। वेबिनार में निदेशक डॉ शक्ति कुमार और डीन डॉ विजय अठावले ने भी विधार्थियो के सवालों के जवाब दिए। सभी विभागाध्यक्ष और कॉलेज के सभी शिक्षक भी वेबिनार में ऑनलाइन माध्यम से जुड़े रहे।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

फिर सील किया दिल्ली बार्डर, बिना ई पास वाहनों व लोगों पर सख्‍ती, पढ़िए पूरी खबर

Voice of Panipat

रेल मंडल ने बनाया 12 की बजाय 24 डिब्बों का प्लेटफार्म, रेलवे फिर भी नाराज, पढिए वजह.

Voice of Panipat

हरियाणा बजट 2020 ,हरियाणा सीएम मनोहर लाल कर  रहे है बजट पेश,सुझावों का लेकर कही ये बात 

Voice of Panipat