32.6 C
Panipat
August 13, 2022
Voice Of Panipat
Big Breaking News Crime Haryana Haryana News Latest News PANIPAT NEWS

15 लाख की फि*रौती मांगने से पहले ही कर दी थी बच्चे रौनक की ह*त्या, ये है आरोपी, पढ़िए

1. *फिरौती के लिए मासूम बच्चे का अपहरण कर हत्या करने वाले दोनों आरोपी गिरफ्तार*

2. *गांव बराना से 20 जून को 8 वर्षीय रौनक का अपहरण कर आरोपियों ने 15 लाख की फिरोती की रकम मांगने से पहले ही हत्या कर दी थी*

3. *पकड़े गए आरोपियों की पहचान विनोद पुत्र अंग्रेज व संजय पुत्र नरेश निवासी बराना पानीपत के रूप में हुई

वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह):- गांव बराना मे 8 साल के रौनक का अपहरण कर हत्या कर दी गई. प्रारंम्भिक पुछताछ में आरोपियों से खुलासा हुआ कि दोनो ने अपने उपर चढ़े कर्ज उतारने के लिए योजना बना बच्चे का अपहर्ण कर बाग में ले जाकर हत्या के बाद 15 लाख रूपए फिरौती की मांग की थी। आरोपियों ने बच्चे के परिजनों से फिरौती मांगने के लिए रकम कागज पर लिखकर कागज को पत्थर से लपेट घेर में फेका था।

पुलिस अधीक्षक (SP) शशांक कुमार सावन ने बताया कि थाना सैक्टर 13/17 में 20 जून को गांव बराना निवासी महिला सीमा पत्नी शिवकुमार ने उसके 8 वर्षीय बच्चे रौनक के अपहरण होने व 15 लाख रूपए की फिरौती मांगने बारे शिकायत देकर बताया था। सीमा की शिकायत पर थाना सैक्टर 13/17 में तुरंत अज्ञात आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 364ए के तहत मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाही अमल में लाते हुए मामले की गंम्भीरता को देखते हुए उन्होनें अपहर्त बच्चे को जल्द से जल्द सकुशल बरामद करने व आरोपियों की धरपकड़ के लिए थाना सैक्टर 13/17 पुलिस की टीम के अतिरिक्त सीआईए-वन व सीआईए-टू की टीमों को विशेष जिम्मेवारी सौपी गई थी। पुलिस टीमें बच्चे को बरामद करने व आरोपियों को पकड़ने के लिए लगातार विभिन्न पहलुओं पर गहनता से छानबीन करते हुए व आस पास लगे सीसीटीवी कैमरा में कैद फुटेज को खंगालते हुए संदिग्ध लोगों से पुछताछ कर रही थी। सीआईए-वन प्रभारी इंस्पेक्टर राजपाल सिंह व उनकी टीम ने बुधवार सुबह ग्राम वासियों के सहयोग व सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गांव निवासी विनोद पुत्र अंग्रेज व संजय पुत्र नरेश से गहनता से पुछताछ की तो आरोपियों ने 8 वर्षीय रौनक का अपहरण व हत्या करने के बारे मे स्वीकारा। आरोपियो की निशानदेही पर ड्यूटी मैजिस्ट्रेट की उपस्थिति में बच्चे के शव को गांव बराना में जोहड़ से बरामद किया गया।

एसपी शशांक कुमार सावन ने बताया कि बच्चे के शव का सिविल अस्पताल में डाक्टरों के बोर्ड द्वारा पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों के हवाले करने के बाद पुलिस टीम ने गिरफ्तार दोनों आरोपियो से गहनता से पुछताछ करने, वारदात में प्रयोग बाइक व पैन बरामद करने के लिए आरोपी विनोद व संजय को आज माननीय न्यायालय में पेश कर पुलिस रिमांड पर लिया गया.

आरोपियों से प्रारंम्भिक पुछताछ में खुलासा हुआ :

आरोपी विनोद अपहर्त बच्चे के पिता शिवकुमार के साथ साझे में खेती करता है। आरोपी विनोद का शिवकुमार के घर आना जाना था और उसको शिवकुमार के पास पैसे होने के बारे मे जानकारी थी। आरोपी विनोद व संजय की आपस में गहरी दोस्ती है। दोनों ने अपने उपर चढ़े कर्ज उतारने के लिए करीब 10 दिन पहले खेत में बैठकर शिवकुमार के 8 वर्षीय बेटे रौनक का अपहरण करने की योजना बनाई। आरोपी विनोद ने संजय को बताया था की शिवकुमार का पूरा परिवार उसको अच्छे से जानता है इसलिए किसी को उसके उपर अपहरण का शक भी नही होगा।

20 जून को सुबह समय करीब 10.40 पर दोनो आरोपी बाइक पर सवार होकर गांव बबैल की और से आ रहे थे तो आरोपी संजय ने 8 वर्षीय मासूम रौनक को गली में अकेले खेलते हुए देखा। वह बाइक से नीचे उतर गया और संजय को खेत में भेज दिया। आरोपी ने घर के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरा से बचने के लिए दूर खड़े होकर इशारा कर रौनक को अपने पास बुलाया और खेत में बाग से आम देने की बात कह बहला फुसलाकर बच्चे रौनक को अपने साथ बाग में ले गया। वहा पर आरोपी संजय भी आ गया। मासूम रौनक(8) आरोपियों से बचने के लिए भागने का प्रयास व चिल्लाने लगा। दोनो आरोपियों ने अपनी पहचान उजागर होने के डर के चलते मासूम रौनक का मुहं व गला दबाकर हत्या कर शव बोरे में डालकर साथ ही बोरे में 3/4 ईट भी डाल दी और बोरे को बांधकर खेत से करीब 70 मीटर की दूरी पर स्थित जोहड़ में डाल दिया। अपहरण के आधे घंटे के अंदर ही मासूम बच्चे की हत्या कर दी गई थी।

मासूम बच्चे की हत्या करने के बाद आरोपियों ने परिजनों से 15 लाख की फिरौती मांगने के लिए रकम कागज पर लिखकर कागज को पत्थर से लपेट घेर में फेका था। आरोपी संजय राज मिस्त्री का काम करता है।

थाना सैक्टर 13/17 में  सीमा पत्नी शिवकुमार निवासी बराना की शिकायत पर मुकदमा दर्ज है:

थाना सैक्टर 13/17 में गांव बराना निवासी सीमा पत्नी शिवकुमार ने शिकायत देकर बताया था कि सोमवार 20 जून को वह अपने घेर से घर जाने लगी तो उसे आंगन में एक पॉलीथिन पड़ी मिली। उसने उसे उठाया और खोलकर देखा तो अंदर एक कागज पत्थर के साथ लिपटा हुआ था। उसने खोल कर देखा तो कागज पर लिया था कि तुम्हारा लड़का हमारे पास है। लड़का चाहिए तो 15 लाख रूपए तैयार कर लो। पैसे तैयार होने पर मकान के बाहर निशान लगा देना। दो दिन में पैसे तैयार कर लेना। पुलिस को फोन किया तो लड़के की लाश मिलेगी। इस बारे उसने तुरंत घरवालों को बताया और सभी ने मिलकर लड़के रौनक (8) को अपने तौर पर काफी तलाश किया, जिसका कोई सुराग नही मिला। शिकायत में सीमा ने बताया था अज्ञात आरोपियों ने पैसो की फिरोती के लिए बेटे रौनक (8) का अपहरण कर लिया। शिकायत पर तुरंत थाना सैक्टर 13/17 में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 364ए के तहत मुकदमा दर्ज कर पुलिस की विभिन्न टीमों द्वारा आरोपियों की तलाश शुरू कर दि गई थी। 

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

दुनिया की सबसे ऊंची रोहतांग ‘अटल’ टनल तैयार

Voice of Panipat

किसानों के आगे झुकी सरकार, रद्द किये तीनों कृषि कानून, पढिए क्या कहा PM मोदी ने

Voice of Panipat

हरियाणा में 15 जून को शुरू होगा तीसरा सीरो सर्वे, इस बार बच्चे भी शामिल होंगे

Voice of Panipat