31.5 C
Panipat
June 29, 2022
Voice Of Panipat
Big Breaking News Crime Haryana Crime Panipat Panipat Crime

कंप्यूटर सॉफ्टवेयर हैक कर ऐसे पास करवाते थे सरकारी पेपर, आरोपी निकले पढ़े-लिखे

वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह):- एसटीएफ सोनीपत व गुरूग्राम की टीम को सयुक्त रूप से कार्रवाही करते हुए मिली बड़ी सफलता । एसटीएफ की सयुक्त टीम ने आईआईटी सहित अन्य सरकारी ऑनलाइन परीक्षाओं मे कंप्यूटर सॉफ्टवेयर हैक कर परीक्षा पास करवाने वाले गिरोह का पर्दाफास करते हुए गिरोह के 6 सदस्यों को किया काबू । आरोपितों की पहचान अशोक उर्फ शोकी, मोनू व आशीष निवासी गोरड सोनीपत, आकाश निवासी जयपुर, गोरी निवासी कोंडला दोसा राजस्थान व आकाश निवासी मोतीनगर जयपुर के रूप मे हुई। पानीपत पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने अपने कार्यालय में प्रेसवार्ता कर प्रकरण की जानकारी देते हुए बताया ऑनलाइन परीक्षाओं मे कंप्यूटर सॉफ्टवेयर हैक कर परीक्षा उत्तीर्ण करवाने वाले गिरोह को पकड़ने के लिए सोनीपत व गुरूग्राम एसटीएफ की टीम काफी समय से सघंन प्रयासरत्त थी। टीम ने विभिन्न पहलुओं पर छानबीन करते हुए विशेष सुचना मिलने पर गुरूवार को दंबिस देते हुए सोनीपत से आरोपित अशोक उर्फ शोकी पुत्र रणधीर, मोनू पुत्र कर्मबीर व आशीष पुत्र नरेंद्र निवासी गोरड सोनीपत को काबू किया । वही गिरोह के तीन सदस्य आकाश निवासी जयपुर, गोरी निवासी कोंडला दोसा राजस्थान व आकाश निवासी मोतीनगर जयपुर को नागपुर महाराष्ट्र से काबू किया। गिरोह के खिलाफ भिवानी व पानीपत मे आई.टी.एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत एक-एक मुकदमा दर्ज है।


उन्होनें बताया आरोपित अशोक उर्फ शोकी पर हरियाणा पुलिस की और से भिवानी मे दर्ज एक मुकदमें मे 1 लाख रुपये व मोनू पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। आरोपितों का नेटवर्क हरियाणा, दिल्ली, पंजाब, बिहार व राजस्थान सहित अन्य कई प्रदेशो तक फैला हुआ था। आरोपित लोगों से मोटी रकम लेकर आईआईटी के साथ ही नोकरी की विभिन्न परिक्षाए पास करवाते थे। आरोपित विभिन्न परिक्षाओं मे साफ्टवेयर के माध्यम से कंप्यूटर को रिमोंट एक्सैस करके पैपर साल्व करते थे। आरोपित रेलवे कर्लक, एमटीएस, नीट, एसएससी, सीएचएसएल सहित विभिन्न आनलाईन व आफलाईन परिक्षाए विभिन्न परिक्षार्थियों से मोटे पैसे लेकर उतीर्ण करवा चुके थे। आरोपित पिछले करीब 5/6 वर्षो से इस अवैध कार्य को अंजाम देने मे जूटे थे । आरोपितों ने विभिन्न स्थानों पर लैब बना रखी है जिनमे से एक पानीपत मे टोल प्लाजा के नजदीक एपीट इंजिनियरिंग कालेज मे है । गहनता से पुछताछ करने के लिए आरोपित अशोक उर्फ शोकी, मोनू व आशीष निवासी गोरड सोनीपत को पानीपत माननीय न्यायालय मे पेश कर 8 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया। वही आरोपित आकाश निवासी जयपुर, गोरी निवासी कोंडला दोसा राजस्थान व आकाश निवासी मोतीनगर जयपुर को नागपुर से गिरफ्तार कर एसटीएफ की टीम लेकर आ रही है। 

गिरोह मे शामिल अन्य सदस्यों को भी जल्द ही काबू कर लिया जाएगा, एसटीएफ की टीम हर प्रकार से मामलें में अनुसंधान कर रही है। पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने सोनीपत एसटीएफ के इंचार्ज डीएसपी महेश व गुरूग्राम एसटीएफ के इंचार्ज डीएसपी सुरेंद्र सिंह व उनकी पूरी टीम के सदस्यों द्वारा किये गए कार्य की प्रशंसा करते हुए कहा की टीम के लिए यह बहुत बड़ी उपलब्धि है। प्रेसवार्ता के दोरान डीएसपी महेश व डीएसपी सुरेंद्र सिंह भी मौजूद रहे ।

एसटीएफ की टीम :- 
इंस्पेक्टर सतीश देशवाल, इंस्पेक्टर वरूण, इंस्पेक्टर मदन लाल,  एएसआई सुनिल कुमार, एएसआई सतीश कुमार, एएसआई जोगेन्द्र कुमार, एएसआई सन्दीप, एएसआई निरंजन, एच.सी राजेश, एच.सी राजीव, एच.सी राजेन्द्र, ईएचसी धर्मबीर, ईएचसी प्रवीन कुमार, ईएचसी मनोज, ईएचसी अजीत, सिपाही दीपक, मोहित, आशिष, विकास, युधिष्टर, अशोक व सिपाही  नरेन्द्र ।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

सब्जियों की महंगाई से नहीं मिल पा रही राहत, सरकार के फैसलों का भी असर नहीं

Voice of Panipat

साइबर अपराध से बचना है तो ऐसे रहे सतर्क

Voice of Panipat

SDVM स्कूल (सीनियर विंग) की लिफ्ट में फंसकर लैब अटेंडेंट की मौत, कुछ महीने पहले हुई थी शादी

Voice of Panipat