31.6 C
Panipat
July 17, 2024
Voice Of Panipat
Big Breaking NewsHaryanaPanipatSports

पानीपत के सागर जागलान अमेरिकी पहलवान को हरा बने विश्व चैंपियन

वायस ऑफ पानीपत (सोनम गुप्ता):- पानीपत के सागर जागलान 80 किलोग्राम भार वर्ग में अमेरिका के पहलवान जेम्स माकलर को 4-0 से हराकर विश्व कैडेट कुश्ती प्रतियोगिता जीत चैंपियन बने। हंगरी में 18 जुलाई से शुरू हुई इस प्रतियोगिता में सागर ने अमेरिकी पहलवान को मैट से बाहर कर सफलता हासिल की। इससे पहले हुए चार मुकाबलों में सागर ने फितले दांव का इस्तेमाल कर प्रतिद्वंद्वियों को हराया।

मूल रूप से नौल्था गांव के रहने वाले सागर पानीपत शहर के राजनगर में रहते हैं। बचपन में शारीरिक रूप से कमजोर थे। दोस्त ही मजाक करते थे। उन्हें गुस्सा भी आता था, लेकिन ताकतवर दोस्तों के पास जाने में घबराते। पिता मुकेश कुमार पहलवान रहे हैं। उन्होंने ठान लिया कि बेटे को भी पहलवान बनाऊंगा ताकि कोई कमजोर शरीर पर तंज न कसे। बेटे को अखाड़े में कुश्ती के अभ्यास के लिए छोड़ दिया। सागर ने कड़ा अभ्यास किया और शरीर को मजबूत बनाया। राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लगातार पदक जीते। तंज कसने वाले दोस्त अब उन पर गर्व करते हैं।

सागर की जीत पर घर में पिता मुकेश, मां सरिता, भाई दीपक, दादा रणधीर, दादी कमला देवी और चाचा नरेश ने लड्डू बांटे। सागर खरखौदा स्थित अश्वनी कुश्ती एकेडमी के कोच अश्वनी के पास अभ्यास करते हैं। कोच अश्वनी ने पहलवानों को लड्डू खिलाकर जश्न मनाया। सागर जागलान ने बताया कि वह स्टार पहलवान बजरंग पूनिया के फितले दांव के मुरीद हैं। पूनिया से कई बार मिल चुके हैं। दांव की बारीकी सीख चुके हैं। वह हर रोज 120 बार फितले दांव का अभ्यास करते हैं। एशियन चैंपियनशिप व वर्ल्‍ड चैंपियनशिप में फितले दांव की वजह से जीत दर्ज कर पाया है।

एशियन अंडर-15 कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक।

-स्कूल नेशनल कुश्ती प्रतियोगिता में स्वर्ण।

-कैडेट कुश्ती प्रतियोगिता में दो रजत।

-दो बार भारत केसरी का खिताब।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

पिता ही निकला बेटी से दुष्कर्म करने का आरोपित, ऐसे हुआ खुलासा

Voice of Panipat

अब इस उम्र में भी मिल सकती है पेंशन, LIC ने की इस योजना की शुरूआत

Voice of Panipat

एक्‍शन मूवी की तरह बस से टकराई कार, मां-बेटे की मौ*त

Voice of Panipat