33.3 C
Panipat
May 17, 2024
Voice Of Panipat
Big Breaking NewsPanipat

होली के त्यौहार को लेकर रिफाइनरी में कार्यरत राकेश रोशन ने लिखी कविता…पढ़े कविता

वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह):- अपनों से अपनों को मिलाएं जो हर बार….दूर परदेसी को भी खींचकर जो लाए अपने द्वार…दोस्तों संग फिर से जीने का मौका दे जो बार बार…..ऐसा होता है होली का शुभ त्योहार….

रंगों की जो सब पर करें बौछार…खुशियों से जो भर दे घर संसार…..हर तरफ फैलाएं जो प्यार ही प्यार…ऐसा होता है होली का शुभ त्योहार….बचपन में जिसका, रहता था बेसब्री से इंतजार…जा जा कर घर दोस्तों के , रंगते थे उनको बार-बार…नए कपड़े पहन कर मिलते थे गले ,हम सब यार…बड़े बुजुर्गों का भी लेते थे आशीष हर बार

होली साथ अपने लाती है ,भूली बिसरी यादों की सौगात….रहते थे कितने खुश हम ,ना होती थी दुख की कोई बात…जेब खाली रहने पर भी, कम नहीं होती थी अपनी औकात…जिंदगी की सबसे सुनहरी होती थी ,हमारी दिन-रात

एक बार फिर, प्यार और भाईचारे वाली होली है आई…इस बार कोरोना से बचाव हेतु, डिजिटल होली खेले हम सब भाई

“रौशन ” कहे ,चलो प्यार के रंग में आज सबको रंग डाले…आओ मिलकर नफरत को, हम सब अपने जीवन से निकाले

राकेश रौशन {लेखक}

Related posts

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा “Right To Recall” सरपंचों से पहले MP और MLA पर हो लागू

Voice of Panipat

अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों के लिए बड़ी खबर, यूनिवर्सिटी ने परीक्षाओं को लेकर किया ये अहम फैसला

Voice of Panipat

आज बेअदबी मामले को लेकर सच्चा सौदा प्रबंधकों से SIT करेगी पूछताछ, राम रहीम से पहले हो चुकी है पूछताछ

Voice of Panipat