43.8 C
Panipat
June 20, 2024
Voice Of Panipat
Big Breaking NewsCrimeHaryanaHaryana NewsLatest NewsPanipat CrimePANIPAT NEWS

PANIPAT:- कनाडा भेजने के नाम पर 34 लाख रूपए की ठगी करने के आरोपी को पानीपत पुलिस ने किया गिरफ्तार

वायस ऑफ पानीपत (सोनम गुप्ता):- पानीपत, गांव अहर निवासी युवक से कनाडा भेजने के नाम पर 34 लाख रूपए की ठगी करने के मामले में जिला पुलिस की स्पेशल डिटेक्टिव युनिट टीम ने एक आरोपी को जगाधरी से गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की। आरोपी की पहचान धीरज पुत्र रमेश निवासी बैंक कॉलोनी जगाधरी यमुनानगर के रूप में हुई। स्पेशल डिटेक्टिव युनिट इंचार्ज इंस्पेक्टर फुलकुमार ने बताया कि गहनता से पूछताछ करने व वारदात में शामिल इसके साथी आरापियों के ठीकानों का पता लगा काबू करने के लिए पुलिस टीम ने आरोपी धीरज को शुक्रवार को माननीय न्यायलय में पेश किया जहा से आरोपी को एक दिन के पुलिस रिमांड पर हासिल किया।

इंस्पेक्टर फुलकुमार ने बताया गांव अहर निवासी बलकार पुत्र नफेसिंह ने मई 2022 में पुलिस अधीक्षक कार्यालय में शिकायत देकर बताया था कि वह कनाडा काम करने के लिए जाना चाहता था जिसके लिए उसे बिजनेस वीजा की जरूरत थी। अक्तुबर 2021 में करनाल में एक शादी समारोह में उसकी मुलाकात धीरज निवासी यमुनागर से हुई। धीरज कहने लगा वह बतौर एजेंट लोगों का वीजा लगवाता है। कुछ दिन बाद धीरज ने करनाल में मिलकर बताया की कनाडा का 10 साल का बिजनेस वीजा लगवाने में करीब 35 लाख रूपए खर्चा आएगा। पैसे वीजा लगने के बाद देने होगे। उसने धीरज पर विश्वास करते हुए इसके लिए हा कर दी। नवम्बर 2021 में उसने धीरज को अपने दस्तावेज दे दिए। धीरज ने फाइल वीजा फाईल तैयार करवाने का दो लाख रूपए खर्चा बताया और कहा पंजाब लुधियाना निवासी कुलबीर उर्फ हरविंद्र इस काम में उसका पार्टनर है वह उससे वीजा लगवाएगा। उसने 1.80 लाख रूपए गूगल पे के माध्यम से धीरज को भेज दिए।

इसके बाद बायोमेट्रिक अपॉइंटमेंट का अलग से खर्चा बताया इसके भी उसने 31770 रूपए धीरज को आनलाईन भेज दिए। 21 जनवरी 2022 को पंजाब के जालंधर में उसकी बायोमेट्रिक करवाई। इसके बाद कुलबीर उर्फ हरविंद्र ने बकाया राशि देने के लिए कहा तो उसने एक लाख रूपए कुलबीर के खाते में ऑनलाईन भेज दिए। 31 जनवरी 2022 को कुलबीर ने कहा वीजा बनकर तैयार हो गया है और पैसे भेज दो। उसने तभी एक लाख रूपए कुलबीर के खाते में डाल दिए। इसके बाद 4 फरवरी 2022 को उसको लुधियाना बुलाया और उसके बिहाफ पर कुलबीर ने वीजा ले लिया। उसको बाकी पैसे देने के बाद ही वीजा देने की बात कही। उसने वीजा दिखाने के लिए कहा तो कुलबीर ने उसके वॉट्सअप पर वीजा की फोटो भेज दी। फोटो में वीजा का एफपीसी नंबर नही भेजा। वह वीजिटर वीजा था जिस पर स्टीकर लगा था। उसने धीरज को फोन कर बताया तुम सभी ने मिलकर उसके साथ धोखा किया है। बाद में कुलबीर का फोन आया और विश्वास दिलाते हुए कहने लगा तूम डरों मत फ्लाईट करवा दूगां। 6 फरवरी 2022 को कुलबीर उर्फ हरविंद्र, धीरज व उनका एक साथी गांव में आए और दो तीन सप्ताह में ही कनाडा की टिकट करवाने की बात कहकर उससे 20 लाख रूपए कैश ले गए। उसने उक्त पैसे अपने मामा के लड़के से उधार लिए थे। तीनों ने कहा टिकट के साथ ही विजा दे देगे। 13 मार्च 2022 की टिकट बुक करने पर उसने 7 व 8 मार्च 2022 को बाकी के 10 लाख रूपए दो बार में कुलबीर के खाते में ट्रांसफर कर दिए। पूरी राशि देने के बाद कुलबीर से अपना पासपोर्ट, वीजा व कनाडा की टिकट मांगी तो उसने 11 मार्च 2022 को दिल्ली एयरपोर्ट पर उसको मिलकर देने के लिए कहा। उसने 11 मार्च 2022 को दिल्ली एयपोर्ट पर पहुंचकर कुलबीर व धीरज को फोन किये तो दोनों में से किसी ने फोन नही उठाए। वह वापिस घर आ गया। अगले दिन धीरज से मिला तो धीरज ने दोबारा से टिकट करवाकर देने का आश्वासन दिया। पूरे पैसे लेने के बाद भी आरोपियों ने असल पासपोर्ट व वीजा नही दिया। आरोपियों ने धोखाधड़ी करके उससे 34 लाख रूपए ठग लिए। बलकार की शिकायत पर थाना मतलौडा में मुकदमा दर्ज कर पुलिस टीम ने जांच करते हुए आरोपियों की धरपकड़ के प्रयास कर दिए थे। 

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

चौटाला परिवार में एकजुटता पर अभय चौटाला ने लगाया विराम, कही ये बात

Voice of Panipat

हरियाणा की दबंग महिला IAS पर जानलेवा हमला, बदला लेने के लिए वारदात को दिया अंजाम

Voice of Panipat

बालिग पहलवानों का यौन शोषण केस, आज सुनी जाएंगी दलीलें,पहुंचे आरोपी सांसद बृजभूषण

Voice of Panipat