45.5 C
Panipat
June 29, 2022
Voice Of Panipat
Big Breaking News Haryana Haryana News India News

नीरज चोपड़ा पहली बार मिले CM मनोहर लाल से, बड़ी जिम्मेंदारी का दिया आफर

वॉयस ऑफ पानीपत(देवेंद्र शर्मा)- टोक्यो ओलिंपिक में नीरज चोपड़ा पहली बार चंडीगढ़ में सीएम मनोहर से मुलाकात की। सीएम मनोहर लाल ने नीरज का स्‍वागत कर मेडल जीतने के लिए बधाई भी दी। सीएम ने कहा कि नीरज चोपड़ा को ओलिंपिक के लिए एथलीटों को तैयार करने के लिए नेतृत्‍व को कहा है। हम हरियाणा को खेलों का हब बनाना चाहते हैं। नीरज यहां आए हैं। अब देश का नाम इनके साथ जुड़ गया है। नीरज हमारे देश और खेल जगत का सम्‍मान हैं। ये होनहार खिलाड़ी हैं और हरियाणा को इन पर गर्व है।

वहीं नीरज ने कहा कि मरे पास काफी समय है और मुझे खुद भी खेलना है। मैं अपनी तरफ से पूरा योगदान दूंगा कि मैं हरियाणा और भारतीय खेल को आगे ले जा सकूं। अगले साल विश्‍व चैंपियनशिप है जिसमें मेहनत करके मेडल लाना है। सीएम ने कहा कि नीरज भी अपना दयित्‍व निभाएंगा। और ज्‍यादा से ज्‍यादा देश में मेडलों की संख्‍या बढ़ाएंगे। सीएम ने कहा पंचकूला में सेंटर आफ एक्‍सीलेंस फार ओलिंपिक्‍स फार एथलेटिक्‍स स्‍थापित किया जाएगा, जिसे नीरज चोपड़ा लीड करेंगे। मैंने नीरज को आफर किया है ताकि हरियाणा को खेल में आगे ले जाया जा सके। ओलिंपिक में खेलने वाले खिलाड़ी नए खिलाडि़यों के लिए अपनी भूमिका निभाएंगे। हम अभी भी 48वें स्‍थान हैं और कई देशों से पीछे हैं, हालांकि हम कई देशों से आगे भी हैं और पहली बार ये स्‍थान मिला है। हम और आगे कैसे बढ़ें इसके लिए तैयारी की जाएगी।

आपको बता दें कि नीरज चोपड़ा मंगलवार को पहली बार अपने गांव खंडरा पहुंचे थे। दोपहर करीब दो बजे गर्मी के कारण उनकी तबीयत खराब हो गई। तुरंत दिल्ली के चिकित्सक से फोन पर बात कराई गई। उन्हें आराम करने की सलाह दी गई। इसके बाद बीच में ही कार्यक्रम रोक दिया गया। करीब आधे घंटे बाद नीरज चंडीगढ़ के लिए रवाना हो गए थे। इससे पहले उन्होंने कोच को लेकर उठे सवालों पर खुद ही विराम लगाते हुए कह दिया कि जयवीर उनके कोच हैं।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

134-ए के तहत दाखिले को लेकर अभिभावकों की समस्या हुई दूर, दाखिलों ने पकड़ी रफ्तार, पढिए

Voice of Panipat

करियाना दुकान की आड़ में खोला था क्लीनिक, CM फ्लाइंग ने मारा छापा

Voice of Panipat

सरकार ने होम गार्ड भर्ती मामले की जाँच विजिलेंस को सौंपी

Voice of Panipat