8.5 C
Panipat
January 27, 2023
Voice Of Panipat
Big Breaking News Crime Haryana Haryana Crime Haryana News

दहेज की बली चढ़ी विवाहिता, शरीर पर मिले चोट के निशान, देखिए पूरा मामला

वॉयस ऑफ पानीपत(सोनम)- दहेज की बली चढ़ी एक और विवाहिता। मामला हिसार जिले के हांसी के गगनखेड़ी गांव का है जहां दहेज के लिए एक विवाहिता की जहर देकर हत्या कर दी है। हत्या का आरोप पति प्रदीप, सास चंद्र, ससुर धर्मपाल और ननद सुदेश पर लगा है। हांसी सदर थाना पुलिस ने मामले में जींद के डोहाणाखेड़ा निवासी मृतका के भाई के ब्यान पर चारों आरोपियों के खिलाफ दहेज हत्या, मारपीट करने, साजिश रचने की धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। मृतका का पोस्टमॉर्टम हिसार के नागरिक अस्पताल में किया गया। मृतका की गर्दन, पीठ, हाथों और टांगों पर चोटों के निशान भी मिले हैं। अभी तक मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

पुलिस को दी शिकायत में राजीव ने बताया कि उसकी बहन गीता की शादी गगनखेड़ी निवासी प्रदीप के साथ 2014 में हुई थी। शादी के बाद से ही उसकी बहन को लगातार दहेज के लिए तंग किया जा रहा था। गीता का पति कोई काम धंधा नहीं करता है। लेकिन वो कई तरह के नशे करता है और सट्‌टा लगाता है। प्रदीप के पिता धर्मपाल की पेंशन से ही घर चल रहा था। जब प्रदीप के पास पैसे खत्म हो जाते थे तो वो गीता के साथ मारपीट करनी शुरू कर देता था और उसे मायके से पैसे लाने के लिए बोलता था। इसके अलावा उनके लुधियाना में दो प्लॉट भी थे, जिन पर प्रदीप की बड़ी बहन ने कब्जा कर रखा है। इन्ही बातों को लेकर अक्सर घर में झगड़े होते थे।

राजीव के अनुसार, शुक्रवार शाम को 4 बजे गीता के ससुराल से फोन आया कि उसकी हालत खराब है और उसे हिसार के निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। जब वो अपने परिवार के अन्य लोगों के साथ वहां पर पहुंचा तो देखा कि गीता की मौत हो चुकी है और उसके पूरे शरीर पर चोट के निशान हैं। इस बारे में पूछने पर ससुराल वालों ने बताया कि गीता ने दोपहर को जहर निगल लिया था, जिसके कारण उसकी मौत हुई है। वहीं गीता के परिजनों के अनुसार, उसके पति प्रदीप और अन्य ने मिलकर गीता के साथ मारपीट करके उसे जहर दिया है। इस मामले में गगनखेड़ी गांव की एक अन्य युवती भी शामिल है, जिसके साथ प्रदीप के अवैध संबंध हैं। गीता के परिजनों का कहना है कि जब तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता, तब तक वो गीता का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे। उन्हें इन्साफ चाहिए।

Related posts

चर्मरोग चिकित्सा बहुआयामी विज्ञान है- डॉ सुमित

Voice of Panipat

ACCIDENT: भीषण सड़क हादसा, दो फौजियों की मौके पर मौत

Voice of Panipat

राशन बांटने के नाम पर डिपो संचालक ने की धोखाधडी, पढिए कैसे किया खुलासा.

Voice of Panipat