10.7 C
Panipat
January 28, 2022
Voice Of Panipat
Big Breaking News Health Health Tips

सर्दी-जुकाम से जल्द राहत पाना चाहते है तो अपनाएं ये चीजें, मिलेगी राहत

वायस ऑफ पानीपत (सिमरन जीत)बदलते मौसम में सर्दी-ज़ुकाम, बुख़ार आम बीमारियां हैं। मॉनसून के बाद अब देश भर में लोग वायरल बुख़ार के शिकार हो रहे हैं। वायरल आमतौर पर एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में जल्दी फैलता है, ऐसे में सावधानी बरतना ज़रूरी हो जाता है। ये इंफेक्शन हमारी नाक, फेरिंजाइटिस, श्वासनलिका और साइनोसाइटिस, साइनस को प्रभावित करते हैं। सर्दी ज़ुकाम होते ही कई लोग वायरल फीवर का भी शिकार हो जाते हैं। इससे निपटने के लिए बाज़ार में कई दवाइयां उपलब्ध हैं, लेकिन इसके साथ आप कुछ घरेलू उपायों का भी सहारा ले सकती हैं।

जानकारी के लिए बता दें कि लहसुन एक प्राकृतिक एंटी-बायोटिक है, जो ज़ुकाम और सर्दी के वायरस को जल्द से जल्द ख़त्म करने का काम करता है। इसके अलावा यह खून को साफ करने में भी बहुत ही फायदेमंद है। इसका प्रयोग आप खाने में डाल कर सकते हैं। इसके अलावा आप इसे कच्चा भी खा सकते हैं। इसको सरसों के तेल में पकाकर अपनी छाती और गले पर लगाएं। इससे भी ज़ुकाम बहुत जल्द ख़त्म हो जाएगा।

नीलगिरी के तेल का प्रयोग एंटी-सेप्टिक के लिए किया जाता है। हालांकि, बहुत से लोग इस बात को नहीं जानते कि इसका प्रयोग सर्दी-ज़ुकाम को ठीक करने में भी किया जाता है। इसका प्रयोग करना बहुत आसान है। सर्दी-ज़ुकाम होने पर आप नीलगिरी के तेल की एक या दो बूंद पानी में डालें और पानी को उबाल लें। उबले पानी से भाप लें, इससे न सिर्फ सर्दी-ज़ुकाम ठीक हो जाएगा बल्कि नाक भी खुल जाएगी। सभी औषधियां सर्दी और ज़ुकाम से लड़ने के लिए फायदेमंद साबित होती हैं। इनमें कैल्शियम, मैंगनीज़, आयरन, विटामिन-के और डाईटरी फाइबर आदि गुणकारी तत्व होते हैं, जो सर्दी-ज़ुकाम के वायरस से बचाने का काम करते हैं। इसके लिए एक छोटा चम्मच शहद लें, आधा चम्मच दालचीनी का पाउडर और नींबू के टुकड़े और अदरक का टुकड़ा लें। इन्हें गर्म पानी में डाल कर ऊबाल लें और दिन में दो से तीन बार पियें

तुलसी बहुत ही लाभकारी औषधि है। इसमें ट्रैनिन, सैवोनिन, ग्लाइकोसाइड और एल्केलाइड्स पाए जाते हैं, जो कि एंटी-बायोटिक का काम करते हैं। सर्दी-ज़ुकाम के समय तुलसी का काढ़ा बहुत उपयोगी होता है। तुलसी का काढ़ा बनाने के लिए आधा गिलास पानी, दो से तीन लौंग और अदरक को लेकर उबाल लें। आप इसमें अपने अनुसार शहद या चीनी मिला सकते हैं। इस काढ़े को दिन में दो से तीन बार पियें जिससे आपको बहुत आराम मिलेगा। खट्टे फलों में विटमिन-सी की मात्रा अच्छी होती है। यह विटामिन हमारे इम्यून को बढ़ाता है। ज़ुकाम होने पर आप संतरा, नीबू, अनानास, चेरी आदि फलों को खा सकते हैं। इसके अलावा विटामिन-सी ब्रोकली में भी पाया जाता है। इस बात का ज़रूर ध्यान रखें कि अधिक मात्रा में इनका सेवन हानिकारक हो सकता है।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

पत्नी ने अपने ही पति को हनीट्रैप में फंसाकर वसूले पैसे, ऐसे हुआ खुलासा

Voice of Panipat

चोरी करने वाले 2 आरोपी काबू, चोरी किया हुआ एक इनवर्टर व दो बैटरी बरामद

Voice of Panipat

अब गृह मंत्री अनिल विज अपने आवास पर नहीं बल्कि इन तरीकों से करेंगे समस्याओं का निवारण

Voice of Panipat