7.3 C
Panipat
March 5, 2024
Voice Of Panipat
Big Breaking NewsEducationHaryanaHaryana News

हरियाणा के युवाओं की विदेश की राह होगी आसान, पढिए कैसे?

वायस ऑफ पानीपत(देवेंद्र शर्मा)- हरियाणा के युवाओं के लिए ये जानकारी काफी अच्छी होने वाली है। जहां पढ़ाई या रोजगार के लिए विदेश जाने की इच्छा रखने वाले ग्रामीण युवाओं और छात्रों के लिए सबसे बड़ी समस्या अंग्रेजी में हाथ तंग होना है। वहीं विदेश में रह रही हरियाणा और पंजाब की हस्तियों ने इस समस्या को दूर करने के लिए हाथ आगे बढ़ाए हैं। जो ग्रामीण युवाओं को अंग्रेजी में दक्ष बनाएंगी। अमेरिका, ब्रिटेन सहित यूरोप के विभिन्न देशों से जुड़े सांसद, प्रोफेसर और अन्य प्रमुख क्षेत्रों के सफल लोग न केवल ग्रामीण युवाओं को इंग्लिश पढ़ना-लिखना और बोलना सिखाएंगे, बल्कि व्यक्तित्व विकास की भी ट्रेनिंग देंगे। इसका बीड़ा इंटरनेशनल हरियाणा एजुकेशन सोसाइटी ने लिया है, जो आनलाइन तैयारी भी करवाएगी।

जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री मनोहर लाल शिक्षक दिवस यानि 5 सितंबर को आनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए पोर्टल का शुभारंभ करेंगे। संस्था के संस्थापक रोहित अहलावत ने बताया कि हरियाणा और पंजाब से हर साल बड़ी संख्या में युवा अलग-अलग देशों में जाते हैं। इन देशों में रह रहे भारतीय मूल के लोग संस्था से जुड़कर सेमिनार के जरिये छात्रों-युवाओं का मार्गदर्शन करेंगे। सोसाइटी छात्रों को विदेश में पढ़ाई और रोजगार से जुड़ी हर जानकरी भी देगी। शिक्षक दिवस पर आनलाइन ट्रेनिंग कार्यक्रम शुरू होगा। खास बात ये है कि कोर्स सभी छात्रों के लिए निशुल्क रहेगा। रोहित अहलावत के अलावा अमेरिका से डाक्टर राजवीर दहिया और इंग्लैंड से सांसद वीरेंद्र शर्मा, प्रोफेसर डाक्टर किरण गुलिया व डॉक्टर पवन बधवार युवाओं को विदेश में कामयाबी के सूत्र बताएंगे और उनकी तमाम जिज्ञासाओं का समाधान करते हुए तैयारी कराएंगे।

वहीं रोहित अहलावत ने कहा कि जो लोग इस ट्रेनिंग का हिस्सा बनकर छात्रों का मार्गदर्शन करना चाहते हैं वे इस मुहिम से जुड़ सकते हैं। संस्था के संस्थापक रोहित अहलावत पिछले कई वर्षों से इंग्लैंड में रहकर अपना खुद का व्यवसाय कर रहे हैं। वीरेंद्र शर्मा इंग्लैंड में पांच बार के सांसद भी हैं जो पंजाब से ताल्लुक रखते हैं। डाक्टर राजबीर दहिया कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर हैं, जबकि डा. पवन बधवार एस्टोन बिजनेस स्कूल, बर्मिंघम से जुड़े हैं। अमेरिका, कनाडा, इंग्लैंड, आस्ट्रेलिया या किसी अन्य देश में नौकरी व शिक्षा के लिए जाने वाले युवाओं को कबूतरबाजों से बचाने के लिए विगत 3 जुलाई को आयोजित अंतरराष्ट्रीय वेबीनार कारगर रहा है। इस वेबीनार के जरिए कई देशों के अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों ने बताया कि कबूतरबाजों के चंगुल में न फंसकर किस तरह विदेश में पढ़ाई कर सकते हैं या वीजा हासिल कर सकते हैं।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

क्या बिना शादी के लड़कियों को रखना चाहिए करवा चौथ का व्रत

Voice of Panipat

HARYANA में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब जेलों में नहीं होगी नियमित मुलाकात

Voice of Panipat

शहीद मेजर आशीष की मां ने जोड़े हाथ, बहन ने किया सैल्यूट

Voice of Panipat