48 C
Panipat
May 29, 2024
Voice Of Panipat
Big Breaking NewsPanipat Crime

चोरी के हाइवा डम्फरों को बेचने मे मुख्य आरोपित को प्रोडक्सन वारंट पर लाकर CIA-3 ने की पुछताछ

वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह):-  चोरी के हाइवा डम्फरों को बेचने मे मुख्य आरोपित ओमप्रकाश निवासी इटावडा जिला नागौर राजस्थान को जेल से प्रोडक्सन वारंट पर लाकर सीआईए-थ्री पुलिस टीम ने की पुछताछ। आरोपित ओमप्रकाश डम्फर चोरी के वारदातो के संबंध मे डूगरपूर राजस्थान जेल मे बंद था। गहनता से पुछताछ उपरांत आरोपित ओमप्रकाश को पानीपत माननीय न्यायालय मे पेश कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया ।

उक्त मामले मे तीन आरोपितो को पहले ही गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा चुका है। सीआईए-थ्री प्रभारी इंस्पेक्टर अनिल छिल्लर ने प्रकरण की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया की बिती 14 अप्रैल को सीआईए-थ्री पुलिस की टीम ने चौटाला रोड़ पर ऊझा के पास नाका बंदी के दौरान संदीप पुत्र विरेन्द्र निवासी तामशाबाद सनौली को चोरी के हाईवा डम्फर व जाली RC सहित काबू किया था । आरोपित संदीप के खिलाफ थाना चांदनी बाग में चोरी का वाहन रखने पर धोखाधड़ी की विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर माननीय न्यायालय मे पेश कर 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लेकर आरोपित सन्दीप से  गहनता से पुछताछ की तो चोरी के सात अन्य डम्फर हाईवा बरामद हुए थे। पुलिस पुछताछ मे आरोपित संदीप ने बताया था कि उसने उक्त चोरी के हाईवा डंपरो को राजस्थान के इटावड़ा जिला नागौर निवासी ओमप्रकाश से सस्ते दामों में खरीदा था। ओमप्रकाश ने पटियाला निवासी चंद्रमोहन उर्फ भोला से उक्त डंपरो की फर्जी आरसी तैयार करवा उसको दी थी। रिमांड अवधी पुरी होने पर आरोपित सन्दीप को न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया था।

इंस्पेक्टर अनिल छिल्लर ने बताया सीआईए-थ्री पुलिस कि टीम ने आरोपित चंद्रमोहन निवासी पटियाला को काबु कर माननीय न्यायालय से आरोपित चन्द्रमोहन को 5 दिन के पुलिस रिमांड पर लेकर गहनता से पुछताछ की तो आरोपित चंद्रमोहन ने बताया था कि उसने चोरी के उक्त डंफरो के फर्जी कागजात बठिंडा पंजाब निवासी जितेन्द्र उर्फ जीतू पुत्र लाजपत से तैयार करवाकर ओमप्रकाश निवासी इटावड़ा जिला नागौर राजस्थान को दिए थे। जो आरोपित चंद्रमोहन की निशानदेही पर बठिंडा पंजाब निवासी जितेन्द्र उर्फ जीतू को सीआईए–थ्री पुलिस ने काबू कर गहनता से पुछताछ की तो उसने बताया था कि उसकी बठिंडा मे जतीन इंटरप्राईजेज के नाम से आनलाईन फार्म भरने व रेलवे के टीकेट बुकिंग करने की दूकान है। वर्ष 2018 मे चंद्रमोहन उससे मिला तो दोनो के बीच डम्फर के फर्जी कागजात बनवाने की बातचीत हुई थी। अब तक वह चंद्रमोहन से एक लाख रुपये प्रति डम्फर के हिसाब से लेकर लगभग चार डंफरो की फर्जी आरसी तैयार करवा चंद्रमोहन को दे चुका था। आरोपित चन्द्रमोहन व जितेन्द्र उर्फ जीतू को न्यायिक हिरासत जेल भेजकर आरोपित ओमप्रकाश की तलाश आरंभ कर दी गई थी ।

इंस्पेक्टर अनिल छिल्लर ने बताया कि आरोपित ओमप्रकाश की धरपकड के लिए सीआईए-थ्री पुलिस की टीम प्रयासरत थी। इसी दौरान पुलिस टीम को जानकारी मिली आरोपित ओमप्रकाश डम्फर चोरी की वारदात के संबंध मे दर्ज मुकदमो मे राजस्थान की सागवाडा जिला डूगरपुर जेल मे बंद है । आरोपित ओमप्रकाश को शुक्रवार को सीआईए-थ्री पानीपत पुलिस की टीम राजस्थान की जेल से प्रोडक्सन वारंट पर लेकर पानीपत आई । पुलिस पुछताछ मे आरोपित ने चोरी के उक्त डम्फरो को गिरफ्तार आरोपित  सन्दीप निवासी  तामशाबाद सनौली पानीपत को बेचने बारे स्वीकारा । आरोपित ओमप्रकाश को माननीय न्यायालय मे पेश कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा ।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

15 साल के बच्चे को अपने साख उठा ले गए 2 यूवक, उसके बाद..

Voice of Panipat

पहलवानों को UWW का बड़ा झटका, WFI की सदस्यता रद्द

Voice of Panipat

हरियाणा पुलिसकर्मियों के लिए बड़ी खुशखबरी, बच्चो को मिलेंगी नौकरी, पढ़िए पूरी जानकारी

Voice of Panipat