26.6 C
Panipat
September 27, 2021
Voice Of Panipat
Big Breaking News Panipat Panipat Crime

पानीपत मे ASI फतेह सिंह ने जब्त बुलेट के निकाले टायर, हुआ गिरफ्तार..ऐसे हुआ मामले का खुलासा

वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह):- पुलिस की व्हीकल डिस्पोजल टीम का एएसआई फतेहसिंह पुलिस लाइन के मालखाने में खड़ी हत्या केस में बरामद बुलेट बाइक के रिम समेत टायर निकालकर ले गया। जब भेद खुला तो डीएसपी ट्रैफिक ने जांच की, जिसमें वह फंस गया। शनिवार को सेक्टर-29 थाना पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। निशानदेही पर पुलिस ने बैरक से दोनों टायर बरामद कर लिए। उसका दो दिन का रिमांड मांगा गया है। पुलिस को शक था कि एएसआई ने कहीं और गड़बड़ी तो नहीं की। मूलरूप से पलवल के मितरौल गांव निवासी फतेहसिंह करीब 20-25 साल से हरियाणा पुलिस में है। कुछ समय पहले ही वह मेवात से पानीपत आया था। यहां व्हीकल डिस्पोजल टीम में तैनात था।

डीएसपी ट्रैफिक को मालखाना गार्द इंचार्ज एसआई फूलकुमार ने बयान दिया कि 21 मई को उसे पता चला कि किसी ने टायर चोरी किए हैं। जब उसने मालखाना इंचार्ज एसआई चरण सिंह को सूचना दी और अपने स्तर पर चोरी की तलाश में जुट गए। कुछ दिन बाद पता चला कि टायर एएसआई फतेहसिंह ने चुराए हैं।

एसआई फूलकुमार के अनुसार, जब पता चला कि टायर एएसआई ले गया तो गार्द में तैनात हवलदार कश्मीर सिंह ने एएसआई को कॉल कर रिकॉर्डिंग कर ली। जिसमें फतेहसिंह कह रहा है कि मैं टायर लेकर गया हूं और इनकी मेरी जिम्मेदारी है।

इनकी बोली हो चुकी है। मैं इनका इंचार्ज हूं। कोई आपको कुछ कहे तो मेरा नाम ले देना। जब स्पष्ट हो गया कि एएसआई ने ही टायर निकाले हैं तो उच्चाधिकारियो को अवगत कराया गया। फतेहसिंह पर आईपीसी की धारा 409 (विश्वास का आपराधिक हनन) के तहत केस दर्ज किया गया। सीनियर एडवोकेट परीक्षित अहलावत ने बताया कि कोई लोकसेवक के नाते अथवा बैंक कर्मचारी, व्यापारी, फैक्टर, दलाल, अटॉर्नी या अभिकर्ता के रूप में किसी प्रकार की संपत्ति से जुड़ा हो या संपत्ति पर कोई भी प्रभुत्व होते हुए उस संपत्ति के विषय में विश्वास का आपराधिक हनन करता है तो वह अपराधी है। इसमें बुलेट पुलिस अभिरक्षा में थी। दोषी पाए जाने पर उम्रकैद या 10 साल की कैद व जुर्माना हो सकता है।

मॉडल टाउन थाना एरिया में जनवरी 2016 में 21 वर्षीय रोहित की गोली मारकर हत्या हुई थी। पुलिस ने मामले में हवलदार को गिरफ्तार कर उसकी बुलेट बाइक बरामद की थी। यही बुलेट मालाखाना में खड़ी थी। जिसकी नीलामी होनी थी। 29 अप्रैल को बुलेट की रिजर्व प्राइज लग चुकी थी। लॉकडाउन की वजह से नीलामी नहीं हो पाई।

वही इस मामले में एसपी का कहना है कि ​​​​​​​बुलेट बाइक के टायर निकालने पर एएसआई फतेहसिंह को गिरफ्तार किया है। आते ही सबसे पहले सभी पुलिसकर्मियो को ईमानदारी से ड्यूटी करने के लिए निर्देश दिए थे। अब जो जैसा करेगा, वो वैसा भरेगा। गलत काम बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

किसान आंदोलन की वजह से फ्री हुए थे टोल, पानीपत में 196 टोल कर्मियो की गई नौकरी

Voice of Panipat

सुरक्षा देने में प्रशासन नाकाम, सड़कों पर पशुओं की भरमार

Voice of Panipat

महिला ने दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाकर की धोखाधडी, पैसे देने पर वापिस केस लिया वापिस.

Voice of Panipat