34.3 C
Panipat
September 28, 2021
Voice Of Panipat
Big Breaking News Panipat

9 फाइनेंसरो ने टायर कारोबारी पर डाला रुपये लौटाने का दबाव, जहरीला पदार्थ खाकर की आत्महत्या

वॉयस ऑफ़ पानीपत कुलवन्त सिंह :- सनौली रोड स्थित टायर कारोबारी ने फाइनेंसरो से तंग आकर जहर खाकर जान दे दी।कारोबारी के पिता ने बताया कि कोरोना काल में बेटे ने टॉयर के व्यापार को बढ़ाने के लिए उग्राखेड़ी के तीन फाइनेंसर्स समेत कुल नौ फाइनेंसर्स से 15 से 20 लाख रुपये ब्याज पर लिए थे, जिसमें से कुछ रकम बेटा लौटा भी चुका था, लेकिन एक सप्ताह से फाइनेंसर लगातार रकम लौटाने का दबाव बना रहे थे, जिस पर बेटे ने आत्महत्या कर ली, जिसकी उनके पास रिकार्डिंग और स्क्रीनशॉट है। सेक्टर-12 चौकी पुलिस ने सभी फाइनेंसर के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

सेक्टर- 18 के रहने वाले राजिंद्र पाल सिंह ने बताया कि उनके दो बेटे जसमीत और जपमीत थे। उनका जपनीत रोड स्थित शिव चौक पर बलवान टायर के नाम से कारोबार है। जिसे छोटा बेटा जपनीत संभालता था। बड़े बेटे जसमीत ने बताया कि पिता की पिछले साल से हार्ट की शिकायत बनी हुई है। इसलिए वह दुकान पर कम ही बैठते थे।दोपहर करीब दो बजे जपनीत ने उन्हें कॉल किया। बताया कि वह इस वक्त सेक्टर- 25 स्थित मित्तल मेगा मॉल के पास कार में है। सांस लेने में दिक्कत हो रही है। वह जल्द ही पिता के साथ मौके पर पहुंच गए। देखा तो जपनीत पसीने से लथपथ था। मुंह से झाग भी निकल रहे थे। उन्होंने जपनीत को निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया।जसमीत ने बताया कि रविवार सुबह जपनीत को होश आ गया। तो बताया कि उसने जहर खा लिया है। उसने बिन्टू निवासी निम्बरी, विनोद निवासी उग्रा खेड़ी, ग्रीन मलिक, राजेश, नवदीप निवासी उग्रा खेड़ी, नन्हा निवासी कुराड़, बिल्लू निवासी सिवाह, विशाल जागलान और खुशीराम जागलान से करीब 25 लाख रुपए 20 प्रतिशत ब्याज पर उधार लिए थे। वह सभी के रुपए वापस कर चुका है।रविवार शाम करीब 7 बजे जपनीत ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। एसआई सतबीर सिंह ने बताया कि उक्त आरोपियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने आदि धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। आरेापियों की तलाश की जा रही है।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

किसानों के हित में कृषि बिल, विपक्ष गुमराह कर केवल चमका रहा राजनीति – सीएम

Voice of Panipat

इस ऐप से रहे सावधान, ठगाें ने रुपए ऐंठने के लिए बनाई ये ऐप

Voice of Panipat

चंडीगढ़ में मिल्खा सिंह का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

Voice of Panipat