40.3 C
Panipat
June 29, 2022
Voice Of Panipat
Crime Haryana Crime India News Latest News

मोबाइल चोरी के शक में हुई थी युवक की ह*त्या, जानें क्यों 6 महीने बाद पुलिस को खोदनी पड़ी कब्र?

वायस ऑफ पानीपत (सोनम गुप्ता):- साइबर सिटी में छह महीने पहले हुई एक युवक की हत्या का खुलासा अब पुलिस ने किया है. पुलिस ने बताया कि मोबाइल चोरी के शक में 20 वर्षीय युवक की हत्या की गई थी. क्राइम ब्रांच ने वारदात में शामिल 4 हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा किया है. हत्या आरोपियो ने 6 महीने पहले अजय नाम के शख्स की हत्या कर शव को रेवाड़ी के खेतों में दफ़ना दिया था.

गुरुग्राम क्राइम ब्रांच ने हत्यारोपियों की निशानदेही पर किया रेवाड़ी के बवाल इलाके के खेतों से मृतक अजय के शव को बरामद किया. अजय वजीराबाद इलाके की लॉन्ड्री में काम करता था. क्राइम ब्रांच की तफ़्तीश में सामने आया कि कैसे बाला की मेडिकल स्टोर संचालकों को अजय पर मोबाइल चोरी करने का शक था. बस इसी शक में यूपी के रहने वाले अजय को इतना मारा की उसकी मौत हो गई. क्राइम ब्रांच ने वारदात में शामिल वजीराबाद के निशांत, अरुण, रुबम, अमित और एक अन्य को गिरफ्तार किया है.

पुलिस की क्राइम यूनिट सेक्टर 40 ने 20 वर्षीय युवक के क़त्ल की एक ऐसी वारदात का खुलासा किया हैं. जिसकी गुत्थी सुलझाने में पुलिस को 6 महीने का वक़्त लग गया. दरअसल वारदात बीती 12 अक्टूबर 2021 की वजीराबाद इलाके की है जहां बाला जी मेडिकल स्टोर संचालकों ने मोबाइल चोरी के शक के चलते 20 वर्षीय अजय लाठी डंडों से पीट पीट कर हत्या कर दी. और म्रतक के शव को रेवाड़ी के बवाल इलाके में खेतों में दफ़ना पुलिसिया जांच को गुमराह करते आ रहे थे. तभी क्राइम यूनिट सेक्टर 40 को हत्या का सुराग मिला और पुलिस ने कर दिया सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा.

कैसे हुआ खुलासा…

दरअसल 20 वर्षीय अजय का अचानक से गायब होना क्राइम ब्रांच को अखरने लगा था. क्राइम ब्रांच द्वारा बार-बार वारदात में शामिल अरुण,रूबल और अमित से पूछताछ करती रही, लेकिन हर बार हत्यारोपी पुलिस को शातिराना अंदाज़ से गुमराह करने में कामयाब होते आ रहे थे. कि तभी क्राइम ब्रांच ने वारदात में शामिल चौथे हत्यारोपी निशांत को कल देर शाम “शामिल तफ़्तीश” कर पूछताछ शुरू की तो निशांत बार बार बयान बदलने लगा. पुलिस का शक और गहरा होने लगा. बस फिर क्या था पूछताछ में सख्ती बढ़ती गयी और 20 वर्षीय अजय की हत्या की गुत्थी सुलझती गयी.

आरोपियों ने हत्या की बात कबूली

एसीपी क्राइम की माने तो निशांत के कुबूलनामा के बाद अन्य तीनो से भी पूछताछ की गई तो चारो हत्यारोपियों ने न केवल हत्या की वारदात को कुबुला बल्कि हत्या कर कैसे मृतक के शव को 24 घंटे तक घर मे रखा, इसके अगले दिन देर रात शव को गाड़ी में रख रेवाड़ी के बवाल के आरामपुर गाव के खेतों में पहुंचे और शव को दफनाकर वापस लौट आये. क्राइम ब्रांच ने हत्या के इस मामले में निशांत, अमित, अरुण और रुबम को गिरफ्तार कर इनकी निशानदेही पर आरामपुर के खेतों से अजय के शव को बरामद कर मामले की तफ़्तीश शुरू कर दी है.

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

माता-पिता व बेटे की आत्महत्या के बाद सुसाइड नोट आया सामने, पढिए खबर

Voice of Panipat

जानिए कौन है दीप सिद्धू की प्रेमिका रीना राय, पढ़िए

Voice of Panipat

बाइक चोरो से 7 बाइक और एक एक्टीवा बरामद, इस इलाके से की थी चोरी

Voice of Panipat