29.1 C
Panipat
May 27, 2022
Voice Of Panipat
Crime Haryana Haryana Crime Panipat Panipat Crime

CIA-2 पुलिस ने आरोपी को सैक्टर-29 फ्लोरा चौक से किया गिरफ्तार

वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह)
सीआईए-टू पुलिस ने देर शाम आरोपी को सैक्टर-29 फ्लोरा चौक से काबु किया..वही वारदात मे संलिप्त गिरफ्तार आरोपी अंकित, दिलावर, करण व संदीप पांच दिन के पुलिस रिमांड पर चल रहे है..चारों आरोपियों को 1 जनवरी की रात वार्ड नंबर तीन मे एक मकान मे ऑनलाइन सट्टा खाईवाली करते हुए काबू किया गया था वही मुख्य सरगना आरोपी हिमांशु उर्फ रवि पुलिस टीम को देखते ही छत के रास्ते मोके से फरार हो गया था..मौके से ऑनलाइन सट्टा खाईवाली मे प्रयोग किये जा रहे उपकरण 31 मोबाइल, 1 लेपटॉप व 1 एलईडी बरामद बरामद हुई थी…आरोपियों के खिलाफ थाना शहर मे भा.द.स की धारा 120बी, 420 व जूआ अधिनियम 13ए -3-67 के तहत मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाही अमल मे लाकर मुख्य एवं फरार आरोपी हिमांशु उर्फ रवि की धरपकड़ के लिए उसके संभावित ठिकानों पर लगातार दंबिश दी जा रही थी…
सीआईए-टू प्रभारी इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने बताया कि पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार के कुशल दिशा निर्देशानुसार जिला में अवैध जूआ, सट्टा खाईवाली व नशा तस्करी की वारदातों पर अंकुश लगा आरोपियों की धरपकड़ के लिए जिला पुलिस द्वारा विशेष अभियान चलाया गया है…अभियान के तहत गत बुधवार देर साय सीआईए-टू की एक टीम सब इंस्पेक्टर इन्द्र कुमार के नेतृत्व में गश्त के दौरान पचरंगा बाजार मे मोजूद थी…इसी दौरान टीम को गुप्त सूचना मिली थी कि वार्ड नंबर तीन मे प्रेम मंदिर वाली गली मे एक मकान मे पांच लड़के लोगो को धोखा देकर पैसे कमाने की नियत से काफी सख्या मे मोबाइल फोन को एक साथ एक डिब्बा में जोड़कर लैपटॉप की सहायता से बिग बैस मैच पर काफी लोगों की नगदी लगवाकर आनलाईन सट्टा खाईवाली कर रहे है…सूचना मिलते ही पुलिस टीम द्वारा सारा मामला पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार के संज्ञान मे लाकर मकान पर दंबिश देने की अनुमति लेकर पुलिस टीम ने मकान में दबिश दी तो आरोपी हिमांशु उर्फ रवि पुलिस को देखकर छत के रास्ते भाग गया था वही एक कमरे मे बैठे आरोपी अंकित पुत्र रमेश निवासी प्रेम मंदिर वाली गली, दिलावर पुत्र सुखबीर निवासी लतीफ गार्डन, करण पुत्र राकेश निवासी नजदीक केसर सिंह गुरूद्वारा पानीपत व संदीप पुत्र बलवान निवासी खानपुर कला सोनीपत को आनलाईन सट्टा खाईवाली करते काबू किया था। मोके पर 31 मोबाइल फोन, 1 एलईडी व 1 लेपटॉप बरामद हुआ था। सभी मोबाइल फोन पर अलग-अलग पर्ची लगी हुई थी। आरोपियों ने उक्त सभी मोबाइल फोनों को एक साथ एक डिब्बे बाक्स पर लगाकर एक केबल के साथ सभी मोबाइल फोन को लेपटॉप के साथ जोड़ा हुआ था। आरोपी लोगो को फोन कर अपनी लाइन को सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त होने की झूठी बात बोलकर उनसे बिग बैस मैच पर नगदी लगवाकर आनलाईन सट्टा खाईवाली कर रहे थे…
इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ थाना शहर मे भा.द.स की धारा 120बी, 420 व जूआ अधिनियम 13ए -3-67 के तहत अभियोग अंकित कर गहनता से पुछताछ करने व मुख्य व फरार आरोपी हिमांशु उर्फ रवि के ठिकानों का पता लगा काबु करने के लिए गिरफतार चारों आरोपियों को वीरवार को माननीय न्यायालय में पेश कर पांच दिन का पुलिस रिमांड लिया गया था। आरोपी हिमांशु उर्फ रवि को काबु करने के लिए उसके संभावित ठिकानों पर लगातार दंबिस दी जा रही थी शुक्रवार देर साय आरोपी को सैक्टर-29 फ्लोरा चौक से सीआईए-टू की टीम ने काबु किया। डब्बा कहा से तैयार करवाया व आगे किस को लाइन दे रही व गिरोह मे और कोन शामिल है इस बारे  में गहनता से पूछताछ करने के लिए आरोपी हिमांशु उर्फ रवि को आज माननीय न्यायालय में पेश कर तीन दिन का पुलिस रिमांड लिया गया।
TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

मोबाइल चोरी के शक में हुई थी युवक की ह*त्या, जानें क्यों 6 महीने बाद पुलिस को खोदनी पड़ी कब्र?

Voice of Panipat

मादक पदार्थ तस्करों को एंटी नारकोक्सि सेल पुलिस टीम ने किया गिरफ्तार

Voice of Panipat

PANIPAT पुलिस द्वारा चलाया गया जागरूकता अभियान, ऐसे बचे साइबर ठगी से

Voice of Panipat