43.8 C
Panipat
June 20, 2024
Voice Of Panipat
Big Breaking NewsHaryanaHaryana NewsLatest News

अगर आप भी हैं ब्राडेंड कपड़े और जूते पहनने के शौकीन तो सावधान ! पढ़ें खबर

वायस ऑफ पानीपत (सोनम गुप्ता):- अगर आप भी ब्राडेंड कपड़े और जुते पहनने के शौकीन हैं तो सावधान, क्योंकि ये कपड़े और जुते नकली भी हो सकते हैं और आपको ब्रांड के नाम पर चूना लगाया जा रहा हो। सोनीपत में सिविल लाइन थाना क्षेत्र में महज पचास रुपये का स्टीकर लगाकर तैयार किए जा रहे ट्रैक सूट, शर्ट और जुतों को ब्राडेंड बताकर लोगों को चूना लगाने के मामले का खुलासा हुआ है। कंपनी व पुलिस की संयुक्त टीम ने छापेमारी करते हुए आरोपितों को काबू कर विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने छापेमारी के दौरान कपड़े, ट्रैक शूट और जुते बरामद किए हैं। पुलिस मामले की गंभीरता से जांच कर रही है।

गुरुग्राम के रहने वाले कृष्णपाल सिंह ने बताया कि वह आरएनए आइपी एट्रोनेज कंपनी में इंवेस्टीगेटर हैं। उनकी कंपनी ने जर्मन की कंपनी प्यूमा के लिए काम करती है। वह बाजार में कंपनी के नाम से तैयार नकली सामान की धरपकड़ करके कानूनी कार्रवाई कराती है। बाजार में सर्च आपरेशन के लिए गठित विजीलेंस टीम के प्रभारी कृष्णपाल बनाए गए हैं। उनकी टीम को सोनीपत में प्यूमा का नकली सामान ब्रांडेड बताकर सप्लाई किए जाने की सूचना मिली थी। शहर में धड़ल्ले से प्यूमा का नकली सामान बिक रहा था। उसके आधार पर विजीलेंस टीम ने जानकारी जुटाई।

कृष्णपाल सिंह ने बताया कि सर्वे करने पर पता चला कि मोहाना का रहने वाला मंजीत नकली टी-शर्ट, लोअर और ट्रैक-सूट की बाजार में सप्लाई कर रहा है। उसने आइटीआइ चौक पर शादीपुर के पास गोदाम बना रखा है। उन्होंने सिविल लाइन थाना पुलिस के साथ छापामारी की।पुलिस और टीम ने पाया कि वहां पर साधारण व घटिया गुणवत्ता की टी-शर्ट व लोअर को प्यूमा कंपनी का लोगो-स्टीकर लगाकर ब्रांडेड बनाया जा रहा था। मौके पर डीएसपी वीरेंद्र सिंह भी मौके पर पहुंचे।मंजीत कुमार ने बताया कि वह कई साल से दिल्ली से कपड़े लाकर उनको प्यूमा की बनाकर बेचते हैं। उनको शहर और आसपास के क्षेत्रों में सप्लाई करते हैं।

उसके पास से भारी संख्या में लोगो-स्टीकर और 308 टी-शर्ट व 104 लोअर बरामद किए गए। वह 3000 रुपये मूल्य की टी-शर्ट को 300 रुपये में और 4000 रुपये के लोअर को 400 रुपये में बेच रहे थे। इसी तरह 10 हजार रुपये का ट्रैक सूट मात्र 800 रुपये में बिक्री करने की बात स्वीकार की। वह 50 रुपये के स्टीकर से साधारण कपड़ों को ब्रांडेड बना देते थे। वहीं पुलिस और कंपनी विजिलेंस की संयुक्त टीम ने आइटीआई चौक पर बोरों में भरकर दुकानों पर सप्लाई करने पहुंचे मोहम्मद सलीम को आइटीआई चौक पर पकड़ लिया। वह उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के लोनी के विकासनगर का रहने वाला है। वह दिल्ली से जूता लाकर उनको स्टीकर लगाकर प्यूमा कंपनी का बनाकर बेच रहा था। वह कंपनी के 7000 रुपये के जूते में 300 रुपये मूल्य का जूता प्रयोग कर रहा था। इन जूतों को वह 500 से एक हजार रुपये में बेच रहा था। उसके पास से 100 जोड़ी जूता बरामद किए गए। पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

दो आरोपी काबू

ब्राडेंड कंपनी का स्टीकर लगाकर नकली कपड़े तैयार करने की शिकायत मिली है। इस संबंध में विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया हैं। छापेमारी के दौरान सामान बरामद हुआ हैं। दो आरोपितों को काबू कर लिया हैं। मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। – वीरेंद्र सिंह, डीएसपी सोनीपत

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

नोटो को डबल करने वाला गिरोह काबू, नकली इंस्पेक्टर सहित 6 गिरफ्तार

Voice of Panipat

HARYANA में चुनाव घोषणा के बाद BJP की पहली रैली

Voice of Panipat

मीडिया रिपोर्टिंग बंद करने को लेकर सुशील कुमार की मां पहुंची दिल्ली हाईकोर्ट

Voice of Panipat