29.1 C
Panipat
May 27, 2022
Voice Of Panipat
Uncategorized

सुप्रीम कोर्ट ने NEET-JEE परीक्षा कराने को दी हरी झंडी, कहा- साल बर्बाद नहीं कर सकते

वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा):-NEET और JEE परीक्षा को सुप्रीम कोर्ट से हरी झंडी मिल गई है। सुप्रीम कोर्ट ने यह साफ कर दिया है कि तय तारीखों पर पेपर लिए जाएंगे।कोर्ट ने कहा है कि जिंदगी ऐसे नहीं रूकती, छात्रों का भविष्य दांव पर नहीं लगा सकते। दरअसल मेडिकल प्रवेश परीक्षा NEET और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा JEE Mains को कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामलों के चलते स्थगित करने की मांग की गई थी, जिसकी याचिका कोर्ट ने खारिज कर दी। जेईई परीक्षा 1 सितंबर से 6 सितंबर तक आयोजित की जानी है। वहीं नीट परीक्षा 13 सितंबर को आयोजित करने की योजना है।

 सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना के मद्देनजर जेईई और नीट की परीक्षा टालने की मांग करने वाली याचिका खारिज कर दी है। सुनवाई के दौरान नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि परीक्षा के लिए कोरोना संबंधी सभी एहतियाती कदम उठाए जाएंगे। इस आश्वासन के बाद कोर्ट ने याचिका खारिज करने का आदेश दिया।सुनवाई के दौरान जस्टिस अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा कि क्या सब कुछ देश में रोक दिया जाए। छात्रों का कीमती एक साल बर्बाद होने दिया जाए।

याचिका में कही गई थी ये बात 11 छात्रों की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई थी। याचिका में कहा गया था कि जेईई की मुख्य परीक्षा 1 से 6 सितंबर के बीच और नीट की परीक्षा 13 सितंबर को करवाने की घोषणा की गई है।लेकिन अभी हालात सामान्य नहीं हैं। कोर्ट देश में कोरोना की स्थिति सुधरने तक परीक्षा का आयोजन न करने का आदेश दे।

बता दें कि देश भर में 15 लाख से अधिक छात्रों ने नीट परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया है। यह परीक्षा भारत के चिकित्सा महाविद्यालयों में प्रवेश पाने का रास्ता है। वहीं नौ लाख से अधिक छात्रों ने जेईई-मेंस परीक्षा के लिए आवेदन किया है जिसके जरिये भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (आईआईटी)को छोड़कर देश के अन्य सभी इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश होता है।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

हरियाणा में कोरोना वायरस के मरीजो की संख्या हुई 7,

Voice of Panipat

Picture Your GAME On Top. Read This And Make It So

Voice of Panipat

मोदी कैबिनेट का फैसला- ई-सिगरेट बैन, रेलवे कर्मचारियों को 78 दिन का बोनस

Voice of Panipat