46.8 C
Panipat
June 14, 2024
Voice Of Panipat
Big Breaking NewsCrimeHaryanaHaryana CrimeLatest NewsPanipat CrimePANIPAT NEWS

PANIPAT: 5 साल से फरार आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार, इस मामले मे था फरार, पढ़िए

वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह):- थाना समालखा क्षेत्र के अंतर्गत गांव नामुंडा में वर्ष 2018 में धर्मेद्र पुत्र महाबीर की पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में 5 वर्ष से फरार चल रहे आरोपित कुलदीप पुत्र ताराचंद निवासी नामुंडा को सीआईए टू पुलिस की टीम ने रविवार को नामुंडा नहर पुल के पास से गिरफ्तार कर लिया है। मामले में 9 आरोपियों को पहले की गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। सीआईए टू प्रभारी इंस्पेक्टर वीरेंद्र ने बताया कि पूछताछ में आरोपी कुलदीप ने परिवार के अन्य आरोपी सदस्यों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा। आरोपी से पूछताछ में खुलासा हुआ वह गिरफ्तारी से बचने के लिए विभिन्न स्थानों पर छुपकर रहा। पिछले कुछ समय से बहादुरगढ़ में रहते हुए सब्जी बेचने का काम कर रहा था। रविवार को परिवार से मिलने के लिए आ रहा था नामुंडा नहर पुल के पास पुलिस टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

इंस्पेक्टर वीरेंद्र ने बताया कि गहनता के पूछताछ करने के बाद पुलिस टीम ने आरोपी कुलदीप को आज माननीय न्यायालय में पेश किया जहा से उसे न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया।

थाना समालखा में 9 जनवरी 2018 को महाबीर पुत्र शेर सिंह निवासी नामुंडा ने शिकायत देकर बताया था उनकी वर्ष 2011 में परिवार में शादी के दौरान गांव निवासी लालचंद के परिवार के साथ कहासुनी हो गई थी। 8 जनवरी की साय वह घर पर थे और बेटा धर्मेद्र काम पर से कार में घर आ रहा था। गली में शोर सुनाई देने पर उसने पत्नी व बेटी के साथ बाहर निकलकर देखा तो ताराचंद, सुरजभान, प्रेम, जगदीश पुत्र लालचंद, बलजीत पुत्र चंदगी, रघु, रामचंद्र, सतपाल व चीनी पुत्र प्रेमसिंह चीनी की पत्नी, लीला पुत्र ताराचंद, प्रवीन, बिट्टू, अनुप पुत्र सुरजभान, महेश पुत्र ओमराज, लालचंद पुत्र श्री चंद व उनके परिवार के कई लड़के व औरत तलवार, लाठी व गंडासी से धर्मेद्र को चोट मार रहे थे। बेटे को छुड़ाने के लिए आगे बढे को आरोपी जान से मारने की धमकी देने लगे। डरते हुए वह पत्नी व बेटी के साथ वापिस घर के अंदर चला गया। आरोपियों ने घर के अंदर घूसकर सभी पर जानलेवा हमला कर दिया। परिवार को पीटता देखकर बेटा राजेंद्र कमरें से लाईसेंसी बंदूक निकालकर लाया और जान बचाने के लिए आरोपियों पर फायर किये तो सभी आरोपी अपने-अपने हथियार समेत मौके से भाग गए। बेट धर्मेद्र को संभाला तो उसकी मौत हो चुकी थी। आरोपियों ने पुरानी रंजिश रखते हुए बेटे धर्मेंद्र को पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी। पत्नी व बेटी को गांव वाले ईलाज के लिए सिविल अस्पताल पानीपत लेकर गए। गंभीर हालत को देखते हुए वहा से डॉक्टरों ने पीजीआई खानपुर के लिए रेफर कर दिया बाद में जिला के एक नीजी अस्पताल में दोनों को ईलाज के लिए दाखिल करवाया गया। महाबीर की शिकायत पर थाना समालखा में आईपीसी की धारा 148,149,323,341,452,302,506,120बी के तहत मुकदमा दर्ज कर पुलिस द्वारा आरोपियों की धरकपड़ के प्रयास शुरू कर दिए गए थे। 

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

दहेज की बली चढ़ी विवाहिता, शरीर पर मिले चोट के निशान, देखिए पूरा मामला

Voice of Panipat

सरकार ने लिया फैसला, अब इस तारीख से हॉलमार्किंग अनिवार्य होगी

Voice of Panipat

HARYANA:- तापमान पहुंचा 45 डिग्री के पास 14 जिलों में लू का अलर्ट 

Voice of Panipat