46.8 C
Panipat
June 14, 2024
Voice Of Panipat
Big Breaking NewsHaryanaHaryana News

इन 18 गांव के लोगों को यहां पर नहीं देना होगा टोल टैक्स, पढिए पूरी खबर

वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)- टोल प्लाज पर टोल टैक्स फ्री करने को लेकर गांव वालों का प्रदर्शन जारी था। वहीं अब 18 गांवों के लोगों को कैथल-अंबाला रोड पर क्योड़क के पास थाना गांव में टोल प्लाजा पर टोल नहीं देना होगा। टोल अधिकारियों ने 18 गांवों को टोल फ्री कर दिया है। यह ग्रामीणों और किसानों के आंदोलन और धरने के कारण किया गया है। इसके बाद से इन गांवों के ग्रामीणों के साथ ही जिला प्रशासन ने भी राहत की सांस ली है।

आपको बता दें कि गांवों में उझाना, दयारा, जसवंती, बलवंती, नौच, खेड़ी शेरखान, गुमथला, मदनपुर, रसूलपुर, बेगपुर, खेड़ी रायवाली, सोलुमाजरा, सागौन, बड़ौत, बंदराना, क्योदक, पोबाला, जदौला अब 18 गांवों के लोगों को कैथल-अंबाला रोड पर क्योदक के पास थाना गांव में टोल प्लाजा पर टोल नहीं देना होगा। बता दें कि यह गौरतलब है कि थाना टोल प्लाजा से सटे ग्रामीणों को यहां टोल के नाम पर कर्मचारियों के साथ झगड़ते देखा जा सकता है। ग्रामीणों ने कहा कि उन्हें अपने काम और रिश्तेदारी के लिए आसपास के गांवों में जाना पड़ता था। लेकिन बीच में टोल प्लाजा होने के कारण उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। हालांकि किसान आंदोलन के दौरान टोल प्लाजा बंद रहा, लेकिन आंदोलन खत्म होते ही टोल अधिकारियों ने इसे चालू कर दिया। इतना ही नहीं प्रति वाहन शुल्क भी बढ़ाकर 140 रुपये कर दिया गया। ऐसे में ग्रामीणों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया।

टोल माफ कराने के लिए एक प्रतिनिधिमंडल ने 21 दिसंबर को एनएचएआई को फोन किया। प्रधान कार्यालय अंबाला में परियोजना निदेशक से भी मुलाकात की थी। जेजेपी नेता चंद्रभान दयारा और बलराज नौच ने भी इसे मुक्त करने की मांग उठाई। किसानों ने दो टूक कहा था कि अगर बात नहीं बनी तो किसान आंदोलन की तर्ज पर इसे पूरे देश के लिए फ्री कर दिया जाएगा और वे यहां बैठकर धरना देंगे।

किसानों और ग्रामीणों ने बताया कि शुरुआती दौर में टोल अधिकारी सिर्फ क्योदक गांव को ही मुक्त कराने की बात कर रहे थे, लेकिन बाद में धीरे-धीरे वे 2 से 8 तक पहुंच गए। किसान आंदोलन को देखते हुए आखिरकार समझौता हो गया। करीब चार घंटे तक चली वार्ता और बैठकों के दौरान 18 गांवों में पहुंचे। ये गांव टोल प्लाजा से करीब 8 किमी के दायरे में आते हैं। टोल अधिकारियों ने जानकारी दी कि इन गांवों के चालकों को अपने वाहन की डीएल या आरसी टोल फ्री में दिखानी होगी। इसके अलावा कमर्शियल वाहनों के लिए यह मान्य नहीं होगा।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

WhatsApp पर आपके साथ न हो जाए बड़ा स्कैम, इन तरीकों से रख सकते हैं Account पूरी तरह सुरक्षित

Voice of Panipat

PANIPAT:- ATM उखाड़कर ले जाने वाले अंतरराज्यीय गिरोह को पकड़ने वाली CIA-1 टीम को SP ने किया सम्मानित

Voice of Panipat

समय पर चाहिए ITR रिफंड तो इनकम टैक्स जमा करने के बाद तुरंत करें ये काम

Voice of Panipat