17.5 C
Panipat
December 1, 2021
Voice Of Panipat
Big Breaking News Business India News Latest News

8 नवंबर को नोटबंदी को लेकर हुआ था ऐलान, जाने अब तक क्या हो चुके हैं बडे बदलाव

वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नोटबंदी के ऐलान के पांच साल बीत चुके हैं। आज ही के दिन 8 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में नोटबंदी ऐलान किया था, जिसके बाद उसी दिन आधी रात से 500 और 1000 के नोट चलन से बाहर कर दिए गए थे। आइए जानते और समझते हैं कि नोटबंदी के बाद इन पांच वर्षों में कितना बदलाव आया।

नोटबंदी के पांच साल बाद डिजिटल भुगतान में वृद्धि के बावजूद चलन में नोटों की संख्या में भी लगातार वृद्धि हो रही है। हालांकि, वृद्धि की रफ्तार धीमी है।दरअसल, कोविड-19 महामारी के दौरान लोगों ने एहतियात के रूप में नकदी रखना बेहतर समझा। इसी कारण चलन में बैंक नोट पिछले वित्त वर्ष के दौरान बढ़ गए। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार डेबिट/क्रेडिट कार्ड, नेट बैंकिंग और यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस जैसे माध्यमों से डिजिटल भुगतान में भी बड़ी वृद्धि हुई है। यूपीआई देश में भुगतान के एक प्रमुख माध्यम के रूप में तेजी से उभर रहा है।

इन सबके बावजूद चलन में नोटों का बढ़ना धीमी गति से ही सही, लेकिन जारी है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ नवंबर, 2016 को आधी रात से 500 रुपये और 1000 रुपये के नोटों को बंद करने की घोषणा की थी, जो उस समय चलन में थे। इस निर्णय का प्रमुख उद्देश्य डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देना और काले धन पर अंकुश लगाना था। भारतीय रिजर्व बैंक के ताजा आंकड़ों के अनुसार, मूल्य के हिसाब से चार नवंबर, 2016 को 17.74 लाख करोड़ रुपये के नोट चलन में थे, जो 29 अक्टूबर, 2021 को बढ़कर 29.17 लाख करोड़ रुपये हो गए।आरबीआई के मुताबिक, 30 अक्टूबर, 2020 तक चलन में नोटों का मूल्य 26.88 लाख करोड़ रुपये था। वहीं वित्त वर्ष 2020-21 में चलन में बैंक नोटों की संख्या में बढ़ोतरी की वजह महामारी रही।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Related posts

इंडियन आर्मी ने 191 पदों पर भर्ती के लिए मांगे आवेदन

Voice of Panipat

PANIPAT के युवक से सैर करने के दौरान झपटी थी गले से सोने की चेन, आरोपित गिरफ्तार

Voice of Panipat

एक ही ट्रैक पर मिले लड़का-लड़की के शव, जांच में जुटी पुलिस

Voice of Panipat